scriptPreparation to take action against absent teachers | जनशिक्षकों को स्कूल पहुंचकर हर दिन डालनी होगी ग्रुप में उपस्थि​ति पंजी की फोटो, अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई की तैयारी | Patrika News

जनशिक्षकों को स्कूल पहुंचकर हर दिन डालनी होगी ग्रुप में उपस्थि​ति पंजी की फोटो, अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई की तैयारी

locationसागरPublished: Dec 29, 2023 12:57:16 pm

Submitted by:

sachendra tiwari

जिला स्तर पर शिकायत पहुंचने पर जनशिक्षक से लेकर बीइओ, बीआरसीसी पर होगी कार्रवाई

Preparation to take action against absent teachers
Preparation to take action against absent teachers

बीना. बार्षिक परीक्षाएं नजदीक होने के कारण शिक्षा विभाग द्वारा लापरवाह शिक्षकों पर सख्ती बरतने की तैयारी कर ली गई है। कमिश्नर की समीक्षा बैठक के बाद जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा सभी बीआरसीसी, बीइओ को आदेश जारी किए गए हैं। इस आदेश में समय से स्कूल न पहुंचने वाले और अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई की जाएगी।
नए आदेश के अनुसार कक्षा 1 से 8 तक के जनशिक्षक अपने जनशिक्षा केन्द्र अंतर्गत आने वाले स्कूल के शिक्षक उपस्थिति रजिस्टर की फोटो खींचकर ग्रुप में बीएसी को भेजेंगे। इसके बाद जनशिक्षा केन्द्रों से प्रतिदिन आने वाली उपिस्थति का बीआरसीसी संकलन कर बिना सूचना के लगातार अनुपस्थित शिक्षकों की सूची उसी दिन संकुल प्राचार्य को कार्रवाई के लिए भेजकर रिकार्ड तैयार किया जाएगा। जिला स्तर से भ्रमण के समय अधिकारियों को रिकार्ड और की गई कार्रवाई से अवगत कराना होगा। विकासखंड में कहीं भी शिक्षकों की लगातार अनुपस्थिति, समय से उपस्थित न होने की कोई शिकायत जिला स्तर पर पहुंचती है, तो संंबंधित सीएसी, बीएससी, बीआरसीसी, बीइओ, संकुल प्राचार्य की जिम्मेदारी मानते हुए कार्रवाई के लिए प्रकरण तैयार कर वरिष्ठ कार्यालय को भेजा जाएगा।
हाइ, हायर सेकंडरी स्कूल में प्राचार्य डालेंगे फोटो
कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल की शिक्षक उपिस्थति पत्रक की फोटो प्राचार्य या प्रभारी द्वारा 10.30 बजे बीइओ को वाट्सएप भेजनी होगी। बीइओ द्वारा अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई करने के लिए संकुल प्राचार्य को पत्र जारी करेंगे और रिकार्ड तैयार किया जाएगा।
इस तरह बनाई गई है मॉनीटरिंग के लिए चैन
जिला शिक्षा अधिकारी ने मॉनीटरिंग के लिए 1 से 8 तक के लिए स्कूल, फिर जनिशक्षक, बीएसी, बीआरसीसी, संकुल प्राचार्य और हाइ व हायर सेकंडरी स्कूल में स्कूल, फिर बीइओ, संकुल प्राचार्य, जिला शिक्षा अधिकारी शामिल हैं।
ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षक बरत रहे हैं लापरवाही
ग्रामीण क्षेत्रों के ऐसे कई प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल में शिक्षक मनमर्जी से पहुंचते हैं या पहुंचते ही नहीं हैं। भानगढ़ क्षेत्र में स्थिति सबसे ज्यादा खराब हैं, जहां यूपी से भी शिक्षक अपडाउन करते हैं। रामपुर स्कूल की शिकायतें भी लगातार आती है, जिसमें कुछ शिक्षक आए दिन अनुपस्थित रहते हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो