अच्छी खबर: 1700 से अधिक प्रवासी मजदूर चिन्हित, हुनर के अनुसार मिलेगा राेजगार

Highlights

लॉक डाउन में जाे प्रवासी मजदूर अपने घरों काे लाैट रहे हैं उनका डाटा सेवायाेजन कायार्लय में तैयार किया जा रहा है। सहारनपुर मंडल में अब तक 1700 से अधिक की सूची बन चुकी है।

By: shivmani tyagi

Updated: 26 May 2020, 11:37 PM IST

सहारनपुर। COVID-19 virus के संक्रमण काे देखते हुए लगाए गए
लॉकडाउन ( lockdown ) में राेजगार छाेड़कर अपने घर लाैटे प्रवासी श्रमिकों के लिए अच्छी खबर है। सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और शामली में 1700 से अधिक प्रवासी श्रमिकों काे चिन्हित कर लिया गया है। अब इन्हे हुनर के अनुसा राेजगार मिलेगा।

यह भी पढ़ें: आजम खान के गढ़ में कोरोना का कहर, बनाए गए नए हॉटस्पॉट, 167 पहुुंची मरीजों की संख्या

सेवायोजन कार्यालय से यह जानकारी मिली है। याेजना के मुताबिक ऐसे सभी श्रमिकों का विवरण यूपी सरकार के सेवा मित्र पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है। यह कार्य पूरा हाेने के बाद सभी काे उनकी याेग्यता के अनुसार राेजागर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: दफ्तर खुलते ही यूपी के इस जिले में हाे गए 321 बैनामे, डेढ़ कराेड़ से अधिक का मिला राजस्व


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संकट के इस दाैरा में प्रवासी श्रमिकों को अपने ही प्रदेश में रोजगार मुहैया कराने का वादा किया है। इसी के तहत यूपी के सभी जिलों में लाैटे प्रवासी श्रमिकों का उनकी योग्यता के अनुसार डाटा बनाया जा रहा है। सभी की फीडिंग अब यूपी सेवा मित्र के पाेर्टर पर की जा रही है। सहारनपुर मंडल में मंगलवार तक 1719 प्रवासी श्रमिकों का डाटा सिंक किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: मेरठ में चचेरे भाइयों के बीच इस बात को लेकर पथराव के बाद चली गोलियां, छह घायल

सहायक निदेशक सेवायोजन शिव ललित सिंह ने बताया कि अब तक सहारनपुर से 1228, मुजफ्फरनगर से 308 और शामली से 183 श्रमिकों का डाटा उनके मंडल ऑफिस पर दर्ज हाे चुका है। अब इनकी सूची तैयार की जा रही है। सभी काे कौशल विकास प्रशिक्षण दिलवाए जाने के बाद नाैकरी या अपने कारोबार के लिए लाेन दिलावाया जाएगा।

COVID-19 virus
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned