शातिर हिस्ट्रीशीटर की जीप का इंजन व चेचिस के नंबर अलग-अलग, पुलिस ने पकड़ा तो कुछ समय के लिए नहीं हुआ यकीन

शातिर हिस्ट्रीशीटर की जीप का इंजन व चेचिस के नंबर अलग-अलग, पुलिस ने पकड़ा तो कुछ समय के लिए नहीं हुआ यकीन
Satna History Sheeter: Engine and chassis numbers vary in Jeep seized

Suresh Kumar Mishra | Updated: 18 Sep 2019, 06:30:21 PM (IST) Satna, Satna, Madhya Pradesh, India

कोलगवां थाना की बाबूपुर चौकी पुलिस की कार्रवाई, आरोपी के खिलाफ दर्ज हैं 42 अपराध, तलाश में पुलिस, शातिर हिस्ट्रीशीटर की जीप जब्त, इंजन व चेचिस के नंबर अलग-अलग मिले

सतना/ कोलगवां थाना इलाके के शातिर हिस्ट्रीशीटर की जीप पुलिस ने जब्त की है। मंगलवार की शाम जब जीप को थाने लाकर पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि उसका इंजन, चेचिस नंबर अलग-अलग है। ऐसे में एक और अपराध की आशंका बनी हुई है। पुलिस वाहन की जांच परिवहन विभाग से कराते हुए पुष्टि करेगी कि इंजन, चेचिस नंबर किसके नाम पर दर्ज हैं।

ये भी पढ़ें: लव गुरु वेबसाइट के चक्कर में फंसा सीधी का युवक, डाटा लीक करने की दी जा रही धमकी

कोलगवां थाना टीआई आरपी सिंह ने बताया कि शातिर अपराधी बाल गोविन्द चौधरी निवासी बाबूपुर के खिलाफ कुल 42 अपराध कायम हैं। एक्सीडेंट के मामले में आरोपी की जीप की पुलिस को तलाश थी। सूचना मिलने पर माला कंपनी बाबूपुर से आरोपी की सफेद जीप को बाबूपुर चौकी प्रभारी एनएन मिश्रा ने जब्त किया है।

ये भी पढ़ें: एक ही परिवार के पांच लोगों की बेरहमी से हत्या, सभी मृतक पन्ना जिला निवासी

जब जीप के दस्तावेज बाल गोविंद के पुत्र से चाहे गए तो वह दस्तावेज नहीं पेश कर सका। जीप की जांच की गई तो इसका चेचिस और इंजन नंबर अलग-अलग मिला। ऐसे में आरटीओ से जांच के बाद आरोपी के खिलाफ धारा 420 आइपीसी का प्रकरण भी दर्ज किया जा सकता है।

मॉडल ही बदल दिया
जांच के बाद यह बात सामने आ रही कि आरोपी ने किसी वाहन की चेचिस और दूसरे वाहन का इंजन लगाकर वाहन का मॉडल बदल दिया है। जो वाहन पुलिस ने जब्त किया है उसमें एमपी 19 ई 5030 नंबर बंपर पर लिखा हुआ है। एक तरह से यह धोखाधड़ी और गंभीर अपराध का मामला है। सूत्र बताते हैं कि इसी वाहन के जरिए आरोपी कई अवैध काम भी इलाके में अपने गुर्गों से कराता रहा है।

फरार है आरोपी
पुलिस का कहना है कि आरोपी बाल गोविन्द चौधरी बेहद शातिर है। वह 452 आइपीसी और एक्सीडेंट के मामलों में फरार है। उसकी तलाश में कई बार पुलिस दबिश दे चुकी है। आरोपी का जिला बदर करने के लिए प्रकरण तैयार किया जा रहा है। इसके साथ ही हाल में ही मिले लोकेशन के आधार पर पुलिस टीमें गिरफ्तारी के लिए भेजी गई हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned