scriptभगवान परशुराम के गूंजे जयकारे, 10 मई को अक्षय तृतीया पर क्षेत्र में शोक होने के कारण नहीं हो सके थे कार्यक्रम | Lord Parshuram's praises were heard; programs could not be held on Akshaya Tritiya on May 10 due to mourning in the area | Patrika News
सवाई माधोपुर

भगवान परशुराम के गूंजे जयकारे, 10 मई को अक्षय तृतीया पर क्षेत्र में शोक होने के कारण नहीं हो सके थे कार्यक्रम

चौथकाबरवाड़ा में निकलती परशुराम शोभायात्रा। इस दौरान बड़ी संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। इसके साथ.साथ घरों में भी विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

सवाई माधोपुरMay 12, 2024 / 11:02 am

Subhash Mishra

चौथ का बरवाड़ा. कस्बे में रविवार को भगवान परशुराम की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। इस दौरान विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ तथा जयकारों से पूरा कस्बा गूंजायमान हो उठा। चौथ का बरवाड़ा तहसील क्षेत्र में 10 मई को परशुराम जयंती के अवसर पर अक्षय तृतीया थी। अक्षय तृतीया पर चौथ का बरवाड़ा सहित आसपास की 18 गांव में शोक मनाने की परंपरा है। ऐसे में रविवार को धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
x8ydlku
शोभा यात्रा की शुरुआत चारभुजा नाथ मंदिर से हुई। यहां सुबह से ही बड़ी संख्या में सर्व ब्राह्मण समाज के लोग एवं अन्य समाज के लोग इक_ा हुए। यहां पर भगवान परशुराम की सामूहिक रूप से पूजा अर्चना की गई। इसके बाद हाथों में झंडा लिए हुए भगवान परशुराम की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा कस्बे के सभी प्रमुख मार्गो से होकर निकली। इस दौरान मुख्य बाजार में पुष्प वर्षा कर शोभा यात्रा का स्वागत किया गया। साथ ही समाज की धर्मशाला में विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। यहां पर सर्व ब्राह्मण समाज के लोगों की विचार गोष्ठी आयोजित की गई। इस दौरान लोगों ने भगवान परशुराम के बताए हुए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। इस दौरान बड़ी संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। इसके साथ.साथ घरों में भी विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया
https://www.patrika.com/sp

Hindi News/ Sawai Madhopur / भगवान परशुराम के गूंजे जयकारे, 10 मई को अक्षय तृतीया पर क्षेत्र में शोक होने के कारण नहीं हो सके थे कार्यक्रम

ट्रेंडिंग वीडियो