लाखों के भवन की हो रही दुर्दशा, अनदेखी का शिकार

लाखों के भवन की हो रही दुर्दशा, अनदेखी का शिकार

Rakesh Verma | Publish: Sep, 05 2018 02:42:07 PM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

बहरावण्डा खुर्द. लाखों रुपए की कीमत से ग्रामीण लोगों को चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करवाने के उद्देश्य से निर्मित करवाया गया। छाण पीएचसी भवन लगातार अनदेखी का शिकार होता जा रहा है। समाजकंटकों ने भवन को क्षतिग्रस्त कर दिया है। खिड़की जंगलें दरवाजे उखाड़ दिए हैं। सफाई के नाम पर चारों ओर गंदगी का आलम है। भवन में ना कोई स्टाफ है और ना कोई देखभाल करने वाला। विभागीय अधिकारियों को इसकी जानकारी होते हुए भी गत कई महीनों से इस भवन की सुरक्षा के प्रति उदासीनता बनाए हुए हैं। कंटीली झाडिय़ों से घिरा: छाण के सामाजिक कार्यकर्ता जुनैद खान, महावीर सैनी, अख्तर खान, दिनेश बैरवा, राजू कण्डेरा, भगवान सेन ने बताया कि छाण पीएचसी भवन के चारों ओर कंटीले पेड़ पौधे उग आए है।


2014 में हुआ था उद्घाटन
छाण पीएचसी भवन का उद्घाटन 20 दिसम्बर 2017 को विधायक जितेन्द्र गोठवाल द्वारा किया था। लोगों में चिकित्सा सुविधा को लेकर एक आस बंधी थी, लेकिन तब से लेकर आज तक इस भवन में चिकित्सा सम्बन्धित सुविधाओं को टोटा रहा है। कुछ महीनों के लिए एक महिला नर्सिंंग स्टाफ लगाया था, लेकिन ध्यान रखते हुए उसने भी इस भवन में कार्य नहीं किया।


लेखाकर्मियों ने किया कार्य बहिष्कार
सवाईमाधोपुर. राजस्थान एकाउंटेन्ट्स एसोसिएशन के प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर अधीनस्थ लेखा संवर्ग की छह सूत्री मांगों को लेकर मंगलवार दोपहर दो बजे से पेन डाउन रखकर सदस्यों ने जिले के सभी कार्यालयों में कार्य बहिष्कार किया। इस दौरान कोषालय व उपकोष कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन किया। महामंत्री महेश कुमार गुप्ता ने बताया कि बुधवार को आधे दिवस का भोजन अवकाश के बाद अवकाश लेकर जिला स्तर पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। गुरुवार को जयपुर में वित्त भवन के सामने मांगें नहीं मानने तक धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। संघर्ष समिति जिला संयोजक रामजीलाल बैरवा, प्रभाकर शर्मा, हुकम चन्द सोनी, बलराम सोनी, अब्दुल सईद, रामजी लाल रैगर आदि मौजूद थे।


समय पर पूरा करें
सवाईमाधोपुर. सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं व मुख्यमंत्री बजट घोषणा प्रगति समीक्षा बैठक मंगलवार को जिला कलक्टर पीसी पवन की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में हुई। कलक्टर ने अधिकारियों को योजनाओं का लाभ लोगों को दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने जल स्वालंबन अभियान के तहत किए गए कार्यों, सापिवि अधिकारियों से ग्रामीण गौरव पथ के तृतीय फेज के अधूरे एवं प्रगतिरत कार्यो को समय पर पूरा करने सहित योजना की समीक्षा कर अधिकारियों को निर्देश दिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned