सिग्नल फेलियर गैंग का होगा गठन

सिग्नल फेलियर गैंग का होगा गठन

Rajeev Pachauri | Publish: Mar, 17 2019 11:40:39 AM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

गंगापुरसिटी . पश्चिम मध्य रेलवे के तीनों मंडलों में सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग में कार्यरत ऐसे रेल कर्मचारी जो रोडसाइड स्टेशनों पर पदस्थ हैं और 8 घंटे ड्यूटी के बाद भी रात्रि में अपने परिवार से मिलने नहीं जा सकते। ऐसे कार्मिक रात्रि में सिग्नल फेलियर की आशंका के कारण 8 घंटे की जगह 24 घंटे मुख्यालय पर ही रहने के कारण तनाव एवं अन्य बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं।

गंगापुरसिटी . पश्चिम मध्य रेलवे के तीनों मंडलों में सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग में कार्यरत ऐसे रेल कर्मचारी जो रोडसाइड स्टेशनों पर पदस्थ हैं और 8 घंटे ड्यूटी के बाद भी रात्रि में अपने परिवार से मिलने नहीं जा सकते। ऐसे कार्मिक रात्रि में सिग्नल फेलियर की आशंका के कारण 8 घंटे की जगह 24 घंटे मुख्यालय पर ही रहने के कारण तनाव एवं अन्य बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं।


वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव ने महाप्रबंधक का इस समस्या के प्रति ध्यान आकर्षित किया है। गालव ने कहा कि पूर्व में रात्रि के समय सिग्नल फेल को अटेंड करने के लिए कोटा मंडल में फेलियर गैंग उपलब्ध थी, जिसे पांच-छह वर्ष से समाप्त कर दिया।

 

इस कारण सिग्नल विभाग में कार्यरत रेल कर्मचारी 24 घंटे ड्यूटी करने को बाध्य हैं। रात्रि में फेलियर अटेंड करने पर कई बार कर्मचारी हादसों का शिकार हो जाते हैं। यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि महाप्रबंधक अजय विजयवर्गीय ने पश्चिम मध्य रेलवे के मंडल रेल प्रबंधकों से वार्ता कर शीघ्र ही सभी मुख्यालय पर रात्रि गैंगों के गठन की कार्रवाई इसी वर्ष अपे्रल माह से पूर्व करने के निर्देश जारी किए हैं, जो सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग के रेल कर्मचारियों के लिए एक बड़ी सौगात होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned