परीक्षा समाप्त होते ही दें अस्थाई प्रवेश, माध्यमिक शिक्षा निदेशक के आदेश

परीक्षा समाप्त होते ही दें अस्थाई प्रवेश, माध्यमिक शिक्षा निदेशक के आदेश

चौथ का बरवाड़ा. सरकारी विद्यालय में नामांकन बढ़ोत्तरी की कवायद शुरू कर दी गई है। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा निदेशक नथमल डिडेल ने जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक एवं प्रारंभिक को बोर्ड परीक्षा के बाद विद्यार्थियों को अस्थाई प्रवेश देकर अगली कक्षा में पढ़ाने के आदेश दिए हैं। आदेश में कहा कि कक्षा पांचवीं आठवीं एवं दसवीं की परीक्षा के बाद नियमित शिक्षण कार्य 1 अप्रैल से शुरू होगा 1 मई को नवीन सत्रारम्भ के साथ नियमित रूप से शिक्षण कार्य प्रारंभ होगा।

मिलेगा नियमित प्रवेश
राजकीय विद्यालयों में कक्षा 1 से 4, 6, 7, 9 व 11 में अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए वार्षिक परीक्षा का आयोजन शिविरा पंचांगानुरुप 10 से 25 अप्रैल तक किया जाना ह,ै तथा 30 अप्रैल को परिणाम की घोषणा तथा प्राथमिक कक्षाओं में चतुर्थ योगात्मक आकलन संपन्न होने के बाद 1 मई से नवीन सत्रारम्भ होगा। विद्यार्थियों को आगामी कक्षाओं में नियमित प्रवेश के साथ ही शिक्षण कार्य शुरू हो जाएगा। इसी तरह कक्षा 5 , 8 तथा दसवीं के उत्तीर्ण विद्यार्थियों का औपचारिक शिक्षण ग्रीष्मावकाश के बाद शुरू होगा।

दो चरणों में होगा प्रवेशोत्सव
राजकीय विद्यालयों में मई-जून 2018 के आयोजित प्रवेशोत्सव के अनुकूल परिणाम प्राप्त हुए थे। इस वर्ष भी विभाग की ओर से मई एवं जून में दो चरणों में प्रवेशोत्सव होगा। गौरतलब है कि परीक्षाओं के परिणाम के बाद विद्यार्थियों द्वारा दोबारा दूसरी कक्षा में प्रवेश ले सकेंगे।

माध्यमिक शिक्षा निदेशक के आदेश के अनुसार दो चरणों में प्रवेश होगा। ऐसे में बोर्ड परीक्षा खत्म होने के साथ ही विधालयों में नामांकन बढ़ाने को लेकर अस्थाई प्रवेश शुरू कर दिया जाएगा।
मनमोहन दाधिच, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, चौथ का बरवाड़ा

Vijay Kumar Joliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned