बच्चों की बदमिजाजी से हैं परेशान, तो "ये" करें

बच्चों की बदमिजाजी से हैं परेशान, तो

Divya Singhal | Updated: 17 Apr 2015, 02:20:00 PM (IST) स्कूल लाईफ

बच्चे तब जिद करते हैं, जब उन्हें किसी मुद्दे पर अपने अभिभावकों से बहस करनी होती है

हर अभिभावक यही चाहता है कि उनका बच्चा हर किसी से अच्छा व्यवहार करे, ऎसे में बहुत बुरा लगता है, जब बच्चा बदमिजाजी करने से बाज नहीं आता। बच्चे का बुरा व्यवहार हर अभिभावक के लिए बेहद परेशान करने वाला होता है, इसकी वजह से कई बार उन्हें शर्मिदगी उठानी पड़ जाती है।

बेवजह की जिद
क्या होता है

आपकी बेटी या बेटा किसी दुकान पर गए और वो वहां पर अपनी मनपसंद चॉकलेट लेने की जिद करने लगे और आपने न कर दिया। जिसके बाद वो दुकान पर ही रोने- चिल्लाने और तमाशा करने लग जाता है।

क्यों होता है ऎसा
बच्चे तब जिद करते हैं. जब उन्हें किसी मुद्दे पर अपने अभिभावकों से बहस करनी होती है, ताकि वे ये साबित कर सकतें कि उन्हें क्या चाहिए। नखरे और जिद हर वक्त सही नहीं होते, खासकर तब जब बच्चा बड़ा हो रहा होता है। और अंत में बच्चों के जिद की समाप्ति उनके अडियल रूख और रोने से होती है।

क्या करें आप
अगर आप किसी पब्लिक एरिया में अगर हों या आसपास ज्यादा भीड़ हों तो ऎसी परिस्थिति आए, इससे पहले ही वहां से चली जाएं या फिर बच्चों के इस व्यवहार पर ज्यादा ध्यान न दें, क्योंकि अगर एक बार आपकी बेटी (या बेटे) को पता लग गया है कि उसके इस व्यवहार से आपको कोई फर्क नहीं पड़ रहा है तो वो खुद ब खुद शांत हो जा एगी। आप उससे बेहद शांत और सधी हुई भाषा में न करने का कारण बताएं।

शिकायती होना
क्या होता है

बारिश हो रही है और उस कारण आपका बेटा बाहर खेलने नहीं जा पाता है। ऎसे में वह लगता है शिकायत करने क्योंकि आपने बारिश होने पर रोका या उसे खेल के मैदान तक पहुंचाने के लिए कुछ नहीं किया।

क्यों होता है ऎसा
चूंकि बच्चा खुद तो कुछ कर नहीं पाता है तो ऎसे में वो शिकायत करके अपनी भड़ास निकालता है। इसके अलावा अगर बच्चा भूखा हो, थका हुआ हो या फिर उसे किसी तरह की परेशानी हो रही हो, तब भी वह ऎसा व्यवहार करता है।

क्या करें आप
आप उससे बात करें कि आखिर ऎसा कौन-सा रास्ता है, जिससे उसकी समस्या का समाधान हो सकता है। आप उनके सामने यह जाहिर करें कि आप उसकी समस्या को अच्छे से समझ रही हैं और साथ ही समाधान पर काम भी कर रही हैं। आप चाहें तो उसे विकल्प के तौर पर भी कई सुझाव दे सकती हैं, जैसे वो घर पर आपके साथ या अपने भाई-बहन के साथ बोर्डगेम खेल सकता है, साथ ही अगले दिन आप उसके साथ बाहर खेलने जरूर जाएंगी।

झूठ और चोरी करना
क्या होता है

आपका छह साल का बच्चा स्कूल से एक नया रबर लेकर आता है और जब आप इसके बारे में उससे पूछती हैं तो कहता है कि वह उसके दोस्त ने बर्थ डे गिफ्ट के तौर पर दिया है।

क्यों होता है ऎसा
बच्चों को यह पता नहीं होता कि किसी चीज को लेने और चोरी करने में क्या अंतर है। वो चीजें ले लेते हैं क्योंकि उन्हें वह चीज पसंद आ रही होती है, उन्हें बाद में यह लगता है कि उनकी हरकत गलत है। ऎसे में वे अपनी गलती छिपाने लगते हैं और झूठ बोलते हैं।

क्या करें आप
उनकी इस हरकत को छिपाएं नहीं। कोशिश करें कि वे खुद से आपको बता दें कि उन्होंने ही रबर खुद से लिया है। अगर आप डरा-धमका कर उनसे पूछताछ करनी शुरू करेंगी तो वे एक झूठ छिपाने के चक्कर में और झूठ बोलना शुरू कर देंगे। उनके सामने बहुत ही सलीके से यह जाहिर करें कि उन्होंने जो किया है वो आपको पसंद नहीं आया। अगर वो आपके सामने सच बोल दें तो आप बदले में बाजार से वही चीज उन्हें लाकर तोहफे के रूप में दें।

पलट कर जवाब देना
क्या होता है

आपके होमवर्क करने के लिए कहने पर आठ साल का बेटा आपसे यह कहता है कि वो अपना होमवर्क करने के लिए बाध्य नहीं है क्योंकि उसके लिए यह एक तरह से समय बर्बाद करने वाला काम है।

क्यों होता है ऎसा
बच्चे जैसे-जैसे बड़े होते जाते हैं, उनकी एक अपनी सोच बनती जाती है। कई बार अपने माता-पिता के बहुत ज्यादा अनुशासन से उनके अंदर गुस्सा भर जाता है, जिस वजह से वे कई बार रूखा व्यवहार करते हैं, तर्क-कुतर्क करते हैं। अगर ऎसे व्यवहार पर पेरेंट्स हंस देते हैं तो उन्हें लगता है कि उनका व्यवहार सही है और पेरेंट्स उसे स्वीकार भी कर रहे हैं।

क्या करें आप
खुद को बेहद शांत और संतुलित रखें। आप बहुत ही सधे हुए लहजे में बच्चे को यह दर्शाएं कि उसका यह व्यवहार आप कभी पसंद नहीं करेंगी। आप उसे बताएं कि जिस लहजे में उसने बात की है, वैसी भाषा और लहजा परिवार का कोई भी सदस्य बात करने में नहीं इस्तेमाल करता। इसलिए आगे से वह इसी तरह के लहजे में बात बिल्कुल ही न करे।

आक्रामक हो जाना
क्या होता है

आपका बच्चा बाहर से आता है, उसके बाद आपको अचानक से यह पता चले कि वह तो वहां से लड़ाई करके आया है। उसने अपने भाई-बहन या अन्य किसी बच्चे को मारा, उसके बाल पकड़े या फिर काट लिया।

क्यों होता है ऎसा
बहुत ज्यादा आक्रामकता भी यह दर्शाती है कि बच्चा अपने प्रति लोगों का (या पेरेंट्स का) ध्यान आकर्षित करना चाह रहा है, साथ ही अपने आसपास के माहौल को कंट्रोल करना चाह रहा है। यह ध्यान देना ज्यादा जरूरी है कि वह आखिर ऎसा क्यों रहा है।

क्या करें आप
बच्चे की आक्रमकता को रोकने के लिए आप किसी तरह की हिंसा का सहारा न लें क्योंकि इससे वह और ज्यादा हिंसक हो जाएगा। इसकी बजाय आप बच्चों से बात करें। ध्यान रखें कि बच्चा कहीं टीवी पर आक्रामक या लड़ाई-झगड़े वाला कोई प्रोग्राम तो नहीं देख रहा। यह पता लगाएं कि आखिर क्या वजह है कि बच्चे को इतना ज्यादा गुस्सा आता है। कुछ ऎसी एक्टिविटी खोजें, जिससे बच्चे को शांत रखा जाए और उसका गुस्सा भी कम किया जा सके।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned