5 लोगों की और आई कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट

पहले उमराह कर लौटे हाजियों से अब वीआईपी परिवारों से नगर में फैला कोरोना वायरस, जवाहरगंज नया कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित, प्रशासन की लापरवाही हजारों लोगों पर पड़ेगी भारी

By: vishal yadav

Updated: 20 May 2020, 08:47 PM IST

बड़वानी/सेंधवा.
नगर के खलवाड़ी मोहल्ले के समीप अमन नगर, राम कटोरा क्षेत्र के बाद अब जवाहरगंज क्षेत्र नया कंटेनमेंट क्षेत्र बन चुका है। बुधवार को मिले 5 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के बाद अब नगर में कुल मरीजों की संख्या 12 हो चुकी है, जिसमें रामकटोरा क्षेत्र के 9 लोग, जवाहर गंज क्षेत्र के 2 लोगों सहित निजी अस्पताल की एक नर्स शामिल है। वहीं 26 रिपार्ट अभी भी पेंडिंग है, जिनमें से अधिकतर संदिग्धों की रिपोर्ट का इंतजार प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और हजारों लोग कर है। नए क्षेत्रों में कोरोना के पांव पसारने से स्थिति अनियंत्रित हो रही है।
सुबह 2 नेगेटिव के बाद दोपहर तक 5 पॉजिटिव की रिपोर्ट से मचा हड़कंप
सुबह करीब 8 बजे स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि सेंधवा के नाले पर निवासी 2 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इससे लोगों ने कुछ राहत की सांस ली थी कि सुबह करीब 11 बजे पांच संदिग्धों की कोरोना संक्रमण रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया। नगर के हॉटस्पॉट बन चुके रामकटोरा में 3 मरीज और सबसे वीआईपी क्षेत्र जवाहरगंज में एक युवक सहित 2 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे नगर में चर्चा का दौर चलने लगा। जवाहर गंज के एक वीआईपी परिवार के व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद राजनीतिक और व्यापारिक क्षेत्र से जुड़े लोगों ने दिनभर हलचल रही।
पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आने वालों की लंबी लिस्ट
बुधवार को अचानक 5 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद रामकटोरा क्षेत्र वरला रोड और जवाहर गंज क्षेत्र में सैकड़ों लोग परेशान हो गए। पॉजिटिव मरीजों के साथ पिछले एक सप्ताह में उनके संपर्क में आने वाले लोगों के परिवारों में हड़कंप मच गया। वहीं अन्य 4 पॉजिटिव मरीजों के परिवार अपनी जांच कराने के लिए शासकीय अधिकारियों और स्वास्थ्य विभाग से संपर्क करते नजर आए। तीन पॉजिटिव मरीज रामकटोरा क्षेत्र के है, वहीं 2 मरीज जवाहरगंज के हैं।
अस्वस्थ होने की जानकारी छुपा रहे लोग
सूत्रों के मुताबिक रामकटोरा क्षेत्र नगर का हॉटस्पॉट बन चुका है। जहां लोग अभी भी जानकारियां छुपा रहे है। जवाहर गंज के एक उद्योगपति और पूर्व जनप्रतिनिधि को कोरोना संक्रमण होने से दिनभर नगर में हलचल रही। संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए कई लोग बुधवार को सिविल अस्पताल पहुंचे। उन्होंने जांच के सैंपल स्वास्थ्य कर्मियों को दिए। कुछ लोगों ने बीएमओ ओएस कलेश से संपर्क कर अपने सैंपल देने की इच्छा जाहिर की। कुछ लोगों ने अस्पताल जाकर तो कुछ कह सैंपल घर से लिए गए। कई परिवार एक दूसरे को फोन लगाते रहे और जानकारी लेते रहे कि कौन व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया था और कौन उनके साथ रह रहा था। रामकटोरा क्षेत्र ने कई संदिग्ध परिवार अभी भी अस्वस्थ लोगों की जानकारी छुपा रहे है। इस कारण प्रशासन और लोगों की परेशानी बढ़ सकती है।
एसडीएम और टीआई ने किया जवाहर गंज क्षेत्र का निरीक्षण
पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद एसडीएम घनश्याम धनगर, शहर थाना टीआई पीएस डावर, स्वास्थ्य टीम के साथ दोपहर करीब 1 बजे एसडीएम जवाहर गंज पहुंचे और उन्होंने संक्रमित हुए व्यक्ति के घर के समीप की गलियों को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित कर बैरिकेड लगाने के निर्देश दिए। जवाहर गंज नगर का सबसे पॉश इलाका है। यहां पर अधिकतर परिवार कपास उद्योग से जुड़े हुए हैं। ऐसे में इस क्षेत्र में संक्रमण का फैलना और संदिग्धों का होना नगर में हजारों लोगों के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। क्योंकि इन परिवारों के बीच ही नगर के कई लोग मजदूरीए अकाउंटेंट साफ-सफाई सहित चौकीदारी के लिए काम करते हैं। आशंका है कि जवाहर गंज क्षेत्र में काम करने वाले लोगों द्वारा अपने परिवारों को भी संक्रमित किया जा सकता है। स्वास्थ्य विभाग की टीम को जवाहर गंज क्षेत्र में फिर से सर्वे कर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करना चाहिए।

Corona virus
vishal yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned