उपार्जन केन्द्र पर तुलाई को लेकर किसान और संस्था प्रबंधक में झगड़ा

- किसान का आरोप एक हजार रुपए न देने पर फेल कर दी जाती है सरसों
- मौके पर पहुंचे तहसीलदार ने शांत कराया विवाद, आवेदन लेकर थाने पहुंचे दोनों पक्ष

By: Anoop Bhargava

Published: 24 May 2020, 09:05 AM IST

श्योपुर/कराहल
उपार्जन केंद्र कराहल पर तुलाई को लेकर किसान और संस्था प्रबंधक झगड़ गए। विवाद के बीच मारपीट तक की नौबत आ गई। किसान और प्रबंधक ने मौके पर अपने-अपने परिजन बुला लिए। इससे मामला बिगड़ गया और मारपीट हो गई। मारपीट की घटना के बाद दोनों पक्ष थाने पहुंचे और आवेदन दिया। उपार्जन केन्द्र पर सरसों की तुलाई में ढेड़ किलो अधिक तौलने व सरसों में कचरा होने को लेकर विवाद शुरू हुआ था। दरअसल कृषि उपज मंडी उपार्जन केन्द्र पर सरसों को फेल करने की शिकायत किसान ने तहसीलदार शिवराज मीणा से की थी। शिकायत के बाद तहसीलदार मीणा मंडी पहुंचे और सर्वेयर से जानकारी ली। सर्वेयर ने तहसीलदार को बताया कि माल तो ठीक है बस कचरा अधिक है। तहसीलदार की मौजदूगी के दौरान भी विवाद हो रहा था। ऐसे में तहसीलदार मीणा ने किसान व प्रबंधक को शांत कराकर किसान की ट्रॉली तौलने के निर्देश दिए।

किसान के साथ हुई मारपीट को लेकर किसान संघ के जिला अध्यक्ष पुष्पेन्द्र सिंह संस्था प्रभारी की शिकायत कलेक्टर से करने पहुंचे। शिकायत कर उन्होंने संस्था प्रबंधक पर कार्रवाई करने की मांग की। उनका कहना था कि कराहल में उपार्जन केन्द्रों पर किसानों के साथ हो रही लूट पर प्रशासन चुप्पी साधे हुए है। 20 मई की सुबह खिरखिरी से किसान सरसों की एक ट्रॉली लाया था। 22 मई की शाम 6 बजे जब नम्बर आया तो सरसों तौलने के समय संस्था प्रबंधक ने सरसों को खराब बता दिया वहीं ढेड़ किलो अधिक तौल कर दी जिससे किसान से मुंहवाद हो गया। इसकी शिकायत किसान ने एसडीएम को फोन पर की। शिकायत के बाद तहसीलदार शिवराज मीणा मौके पर पहुंचे।
आवेदन देकर की शिकायत, किसान बोला मारपीट की
किसान जितेन्द्र धाकड़ ने थाने में दिए आवेदन में कहा कि संस्था प्रबंधक ने कुछ लोग बुलाकर मेरे व भाईयों के साथ मारपीट की। ड्राइवर धर्मेंद्र जाटव के साथ मारपीट करते हुए जान से मारने की घमकी दी। वही संस्था प्रबंधक हरेंद्र कुशवाह ने पुलिस को दिए आवेदन में जितेंद्र धाकड़, नीलेश धाकड़ अन्य लोगों ने झगड़ा करने के साथ अपनी सरसों की काचरे की उपज को जबरन तौलने का दबाव बनाया। हमने सरसों में कचरे की अधिक मात्रा होने पर उसे साफ करने को कहा जिस पर वह झगड़ा करने पर उतारू हो गए।
किसान संघ ने कलेक्टर को दिया आवेदन
पीडि़त किसान जितेंद्र धाकड़ ने राष्ट्रीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष पुष्पेंद्र सिंह के साथ मिलकर कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव को आवेदन देकर संस्था प्रंबधक हरेंद्र सिंह कुशवाह पर कार्रवाई करने की मांग की है । किसान जितेन्द्र धाकड़ ने आरोप लगाया है कि संस्था प्रबंधक पर पहले भी कार्रवाई हो चुकी है। हेराफेरी के मामले में दोषी पाया गया है।
वर्जन
सरसों में कचरे को लेकर उपार्जन केन्द्र पर विवाद हुआ था। किसान और संस्था प्रबंधक में पुरानी रंजिश है। ट्रॉली तुलाते समय दोनों आमने-सामने आ गए। इसलिए विवाद हो गया। दोनों पक्षों ने आवेदन दिया है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
दल सिंह परमार
थाना प्रभारी, कराहल

Anoop Bhargava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned