script SPECIAL NEWS: राजस्थान में यहां 50 बेड का भवन तैयार, हस्तांतरण का इंतजार! | 50 bed building ready, waiting for transfer | Patrika News

SPECIAL NEWS: राजस्थान में यहां 50 बेड का भवन तैयार, हस्तांतरण का इंतजार!

locationसीकरPublished: Dec 26, 2023 11:27:05 am

Submitted by:

Mukesh Kumawat

कोरोना तथा भविष्य की बीमारियों को ध्यान में रखकर रींगस सीएचसी में 3 करोड़ की लागत से अलग भवन का निर्माण करवाया गया। नई बिल्डिंग में 22-22 बेड के दो वार्ड तथा 6 बेड का आइसीयू भी तैयार है। तीमादारों के लिए वेटिंग रूम भी है।

SPECIAL NEWS: राजस्थान में यहां  50 बेड का भवन तैयार, हस्तांतरण का इंतजार!
SPECIAL NEWS: राजस्थान में यहां 50 बेड का भवन तैयार, हस्तांतरण का इंतजार!

सीकर.रींगस (ग्रामीण) कोरोना तथा भविष्य की बीमारियों को ध्यान में रखकर रींगस सीएचसी में 3 करोड़ की लागत से अलग भवन का निर्माण करवाया गया। नई बिल्डिंग में 22-22 बेड के दो वार्ड तथा 6 बेड का आइसीयू भी तैयार है। तीमादारों के लिए वेटिंग रूम भी है। अब यह भवन हस्तांतरण का इन्तजार कर रहा है। उधर कोरोना के नए वैरिएंट ने लोगों को चपेट में लेना शुरू कर दिया है। इसके बाद भी जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं।

यह भवन केन्द्र सरकार ने निर्माण करवाया है। ईसीआरपी 2 में एनएचएम के तहत रींगस सीएचसी पर भी 1.86 करोड़ की लागत से अलग से भवन तथा उसमें दो 22-22 बेड के वार्ड तथा 6 बेड का आइसीयू तैयार करवाया गया। इसके साथ ही 1.14 करोड की लागत उपकरण, इलेक्ट्रिक, ऑक्सीजन उपकरण आइसीयू आदि संसाधन लगाए गए। भवन को इस तरह से तैयार किया गया है कि सामान्य दिनों में अन्य मरीजों के भी काम आ सके। पिछले दिनो भवन तथा कार्यों का निर्माण पूरा हो गया, लेकिन भवन का ताला अभी तक नहीं खुला।

सीएचसी में कोरोना के समय ही लगभग 40 लाख की लागत से पूर्व विधायक महादेव सिंह खण्डेला ने ऑक्सीजन प्लांट की नींव रखी थी। प्लांट पिछले दो माह से प्लांट में तकनीकी खामी है। ऑक्सीजन प्लांट पर कार्यकारी एजेंसी नगर पालिका रींगस व सीएचसी इस पर भी कोई ध्यान नही दे रही। यानी ऑक्सीजन की कमी पड़ी तो मरीजो की जान पर भी भारी पड़ सकती है। भवन का निर्माण पूरा हो चुका है। हमारी तरफ से कोई कमी नहीं है। हमने पिछले दिनों ही प्रभारी को अवगत करवा दिया था। सीएचसी हैण्डऑवर तो ले।

विजय सिंह, एईएन सीविल एनएचएम.सीकर

भवन में ऑक्सीजन लाइन सहित अन्य सभी कार्य पूरे कर लिए गए हैं। हमने तो पिछले दिनो ही अवगत करवा दिया था। हमारी तरफ से कोई कार्य बाकी नहीं है। भवन का ताला खुले तो हम दोबारा से टेस्टिंग करवा लेंगे।

आई. के गुप्ता, एईएन, इलेक्ट्रिक, एनएचएम सीकर

भवन फिनिशिंग तथा उपकरणों में कुछ तकनीकी खामी है। ठेकेदार को ठीक करने के लिए कहा गया है। एक दो दिन में फिनिशिंग व तकनीकी सुधार हो जाएगा। इस सप्ताह इसे शुरू करवाने का प्रयास है। ऑक्सीजन प्लांट नॉन फंक्शन में है। इसके लिए वीसी के माध्यम से उच्च अधिकारियों को बताया गया है। जल्द ही भवन सीएचसी के हैण्ड ऑवर हो जाएगा। ऑक्सीजन सिलेंडर अन्य उपकरण उचित मात्रा में है।

रामअवतार दायमा, प्रभारी सीएचसी रींगस

ट्रेंडिंग वीडियो