बीच सड़क पर एक्सईएन की गाड़ी रोकी तो बिजली विभाग ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी के घर का काटा कनेक्शन

कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन के दौरान वन-वे में गलत दिशा में आती गाड़ी को रोकना ट्रेफिक पुलिसकर्मी ( Traffic Policeman ) को भारी पड़ गया। गाड़ी बिजली विभाग में कार्यरत एक्सइएन महेश टीबड़ा ( Executive Engineer Mahesh Tibra ) की थी। वे खुद भी गाड़ी में बैठे थे। बाद में गाड़ी से उतर कर चले गए। गाड़ी को टीआइ के कहने पर छोड़ दिया, लेकिन कुछ देर के बाद बिजलीकर्मियों ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी के घर का बिजली कनेक्शन काट दिया।

सीकर.

कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन के दौरान वन-वे में गलत दिशा में आती गाड़ी को रोकना ट्रेफिक पुलिसकर्मी ( Traffic Policeman ) को भारी पड़ गया। गाड़ी बिजली विभाग में कार्यरत एक्सइएन महेश टीबड़ा ( Executive Engineer Mahesh Tibra ) की थी। वे खुद भी गाड़ी में बैठे थे। बाद में गाड़ी से उतर कर चले गए। गाड़ी को टीआइ के कहने पर छोड़ दिया, लेकिन कुछ देर के बाद बिजलीकर्मियों ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी के घर का बिजली कनेक्शन काट दिया। घर से फोन आने पर बिजली कनेक्शन कट किए जाने का पता लगा। तब उन्होंने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दी। हैड कांस्टेबल जगदीश प्रसाद ने बताया कि सोमवार को करीब चार बजे कल्याण सर्किल पर डयूटी कर रहा था। कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन चल रहा था जिससे रास्ते को वन-वे कर दिया गया। तभी गलत दिशा में बिजली विभाग के एक्सईएन महेश टीबड़ा बोलेरो गाड़ी में आए। गाड़ी पर राजस्थान सरकार लिखा हुआ था।


उन्होंने गाड़ी को रोक लिया और कहा कि वन-वे रास्ता है, आगे गाड़ी मत ले जाओं। जाम लग जाएगा। तब बोलेरो से एक्सईएन महेश टीबड़ा उतर कर आए। उन्होंने कहा कि कलक्ट्रेट में जरूरी मीटिंग में जाना है। हैडकांस्टेबल जगदीश ने उनसे कहा कि साहब जाम लग जाएगा। कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन चल रहा है। लोग सडक़ों पर बैठे हुए है। वन-वे से वाहनों को निकाला जा रहा है। इसके बाद वे पैदल निकल कर चले गए। उन्होंने ड्राइवर से गाड़ी पीछे ले जाने की बात कहीं। उसने गाड़ी पीछे नहीं ली।

पत्नी की हत्या के आरोप में कांस्टेबल पति गिरफ्तार, सास-ससुर की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े परिजन

गलत साइड जा रहे Xen की गाड़ी रोकी तो बिजली विभाग ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी के घर का काटा कनेक्शन

‘ऐसी वीसीआर भरूंगा कि याद रखेगा’
हैड कांस्टेबल जगदीश प्रसाद ने बताया कि उसने गाड़ी को पीछे ले जाने की बात कहीं। तब भी नहीं माना। इसके बाद हैडकांस्टेबल केशर सिंह आ पहुंचे। गाड़ी पीछे ले जाने की बात पर केशर सिंह ने कल्याण सर्किल पर ले जाकर खड़ी कर दी। तब चालक तिलमिलाते हुए आए और धमकी देकर कहा कि तेरा कनेक्शन काट दूंगा। तेरी ऐसी वीसीआर भरूंगा कि, हमेशा याद रखेगा। तभी टीआई श्रीराम आ पहुंचे। उन्होंने कहा कि एक्सईएन महेश टीबड़ा की गाड़ी है। कोई बात नहीं, चाबी दे दो। उन्होंने गाड़ी की चाबी उन्हें दे दी। चालक चाबी लेकर गाड़ी ले गया।


शाम को घूमने गई थी, घर पहुंची तो बिजली नहीं थी
पुलिस लाइन में हैडकांस्टेबल जगदीश प्रसाद की पत्नी छोटी देवी ने बताया कि वह शाम को घूमने के लिए गई थी। वह वापस आई तो देखा कि घर में अंधेरा था। उन्होंने पड़ोसियों से पूछा तो पता लगा कि बिजलीकर्मी आए थे। वे बिजली कनेक्शन काट कर चले गए। पड़ोस में रहने वाले लोगों की बिजली आ रही थी। उन्होंने पति को पूरी बात कहीं। इसके बाद वे अंधेरे में ही खाना बनाने के लिए जुट गई।


1 घंटे बाद फोन पर पता लगा घर का कनेक्शन कटा
उन्होंने बताया कि चालक गाड़ी लेकर चला गया। करीब एक घंटे के बाद बच्ची ने फोन कर बताया कि दो बिजलीकर्मी आए। वे बिजली के मीटर से छेडख़ानी कर रहे है। हैडकांस्टेबल जगदीश ने बच्ची से कहा कि कोई बात नहीं है, हमारा बिल तो जमा है। कुछ काम कर रहे होंगे। तब वे घर का कनेक्शन काट कर चले गए। इसके बाद हैडकांस्टेबल ने ट्रैफिक प्रभारी को पूरी बात कहीं। साथ ही अन्य साथी पुलिसकर्मियों को पूरी बात कहीं। तब उन्होंने कोतवाली थाने में राजकार्य में बाधा करने व पद का दुरूपयोग करते हुए द्वेषता से कार्रवाई करने की शिकायत दी।


पुलिसकर्मी के आरोप पूरी तरह निराधार है। मैंने कोई कनेक्शन नहीं काटा है। यातायात पुलिसकर्मी ने गाली गलौच कर चाबी छीन ली थी। बैठक में जाने की वजह से गाड़ी वही छोडकऱ चले गए। यातायात पुलिस अधिकारियों को जब मामले की सच्चाई का पता चला तो खुद उन्होंने चाबी दी। -महेश कुमार टीबड़ा, अधिशाषी अभियंता, विद्युत निगम, सीकर

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned