जैन मुनि विश्वनाथ सागर का हुआ अंतिम संस्कार, दर्शनों के लिए उमड़ा जनसैलाब

Naveen Parmuwal | Updated: 14 Jun 2019, 05:35:35 PM (IST) Sikar, Sikar, Rajasthan, India

सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया ।

सीकर।
सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार ( funeral of jain muni Vishwanath Sagar ) शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया । विश्वनाथ सागर के पुत्रों ने जैन मुनि को मुखाग्नि दी। इस दौरान अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में जैन समाज सहित अन्य समाजों के लोग भी शामिल हुए। जैन मुनि की की गाजे-बाजे के साथ अंतिम यात्रा निकाली गई जो जैन मंदिर से शुरू होकर पांडू शीला पहुंची। जहां अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम यात्रा से पूर्व जैन मुनि के पार्थिव देह अंतिम दर्शनों के लिए जैन मंदिर के पास स्थित भवन में रखी गई जहां पर लोगों ने पहुंचकर जैन मुनि के अंतिम दर्शन किए।

सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया ।

जैन मुनि विश्वनाथ सागर की अंतिम यात्रा जैन मंदिर से प्रारंभ होकर दांता कस्बे के मुख्य मार्गो से होते हुए बैंड बाजे के साथ पांडू शीला स्थल पर पहुंची जहां पर विधिवत अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम यात्रा में विधायक वीरेंद्र सिंह चौधरी, पूर्व विधायक हरीश कुमावत, जिला परिषद सदस्य सुरेश शर्मा, भाजपा मंडल पूर्व अध्यक्ष प्रभु सिंह गोगावास, पूर्व जिला परिषद सदस्य राजेश चेजारा सहित अनेक स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं सैकड़ों की संख्या में महिलाएं एवं पुरुष शामिल हुए।

सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया ।

जैन मुनि के अंतिम दर्शनों के लिए राजस्थान के जयपुर, अजमेर, किशनगढ़, सीकर, फतेहपुर, नसीराबाद सहित अनेक स्थानों से जैन धर्म के महिलाएं एवं पुरुष पहुंचे। इस अंतिम यात्रा के दौरान दांता कस्बे से सभी जाति धर्म के लोग शामिल हुए और अंतिम यात्रा निकलने तक दांता कस्बे के बाजार बंद रहे। अंतिम यात्रा के दौरान थानाधिकारी श्रीराम कस्वां के नेतृत्व में पुलिस जाब्ता तैनात रहा।

Read More :

सड़क दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का निधन, समाज में दौड़ी शोक की लहर

सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया ।

गौरतलब है कि गुरुवार को जैन मुनि विश्वनाथ सागर की दांता कस्बे में घाटवा रोड़ पर जीजोट गांव में विहार के लिए जाते समय सडक़ दुर्घटना में गंभीर घायल हो गए थे जिनको जयपुर रेफर किया गया था जयपुर जाते समय रास्ते में ही जैन मुनि का देहांत हो गया जिनका पार्थिव शरीर रात्रि में दांता कस्बे लाया गया और शुक्रवार को उनका से विधिवत पूर्वक अंतिम संस्कार किया गया।

सडक़ दुर्घटना का शिकार हुए जैन मुनि विश्वनाथ सागर का अंतिम संस्कार शुक्रवार को सीकर के दांता में किया गया ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned