हत्या के बाद शव को ट्रैक्टर से बांध गांव में घुमाने का आरोपी 14 साल बाद गिरफ्तार, पुलिस ने मजदूर बनकर पकड़ा

Nagwa Murder Case Sikar : निकटवर्ती नागवा गांव में 14 वर्ष पूर्व भगवान सिंह हत्याकांड ( Bhagwan Singh Murder Case ) में फरार पांच हजार रुपए के इनामी अपराधी ( Rewarded Accused Arrested ) को सदर पुलिस ने गुरुवार को गुजरात से गिरफ्तार कर लिया है।

सीकर.

Nagwa Murder Case Sikar : निकटवर्ती नागवा गांव में 14 वर्ष पूर्व भगवान सिंह हत्याकांड ( Bhagwan Singh murder case ) में फरार पांच हजार रुपए के इनामी अपराधी ( Rewarded Accused Arrested ) को सदर पुलिस ने गुरुवार को गुजरात से गिरफ्तार कर लिया है। यह इस मामले का अंतिम आरोपी है और गुजरात के आणद में टाइल लगाने का कार्य करने लगा था। थानाधिकारी करण सिंह खंगारोत ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी नागवा निवासी सुनील योगी उर्फ सुरेन्द्र है।


sikar police ने वारदात के बाद 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन पोखरमल जाट और सुरेन्द्र योगी भाग गए थे। पुलिस ने पोखरमजाट को पिछले माह असम से गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस सुनील योगी की तलाश में जुट गई। जानकारी एकत्र करने के बाद कांस्टेबल दिनेश कुमार को आरोपी सुनील को गिरफ्तार करने गुजरात भेजा गया।


13 वर्ष से रह रहा था परिवार के साथ ( crime in Sikar )
आरोपी सुनील उर्फ सुरेन्द्र योगी पिछले करीब 13 वर्ष से गुजरात के आणद में परिवार सहित रह रहा था। वह वहां पर टाइल लगाने का कार्य करता था। ऐसे में पुलिस का मानना है कि वारदात के कुछ समय बाद ही वह आणद में रहने लगा। ऐसे में साफ जाहिर है कि पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के भी प्रयास नहीं किए।

 

Read More :

पीट-पीट कर हत्या के बाद शव को ट्रैक्टर से बांध पूरे गांव में घुमाया, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार


11 को आजीवन कारावास ( life imprisonment To Accused )
नागवा गांव में भगवान सिंह की हत्या वर्ष 2005 में 27 मई को की गई थी। लाठी और तलवारों से लेंस आरोपी भगवान सिंह के घर में घुस गए। इसके बाद भगवान सिंह को छत से फैंक दिया गया। आरोपियों ने सामूहिक हमला कर वहीं पर उसकी हत्या कर दी। बाद में शव को ट्रैक्टर के पीछे बांध कर पूरे गांव में घुमाया। इस माले में सुरेन्द्र सिंह, जीवण सिंह, प्रहलादराम, नेमीचंद, भीवाराम, पूर्णमल, जयसिंह, डूंगर सिंह, नौरंगीलाल, पोखरमल भामू और अर्जनुराम को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुना दी है।

Show More
Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned