Corona effect: अब जन सुनवाई का आयोजन स्थगित

-आपदा प्रबंधन समिति के निर्णय को कलेक्टर ने लागू किया

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 05 Apr 2021, 04:43 PM IST

सिंगरौली. कोरोना का कहर लगातार तेज होता जा रहा है। ऐसे में कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने हर मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित होने वाले जन सुनवाई कार्यक्रम के आयोजन पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है। ऐसा आपदा प्रबंधन समिति के निर्णय के आधार पर किया गया है।

कलेक्टर मीना ने कोरोना के संक्रमण पर लगाम कसने के लिए शहरी क्षेत्र मे अधिक से अधिक चलान काटने के निर्देश दिए हैं। उन्होने कहा है कि इसके लिए दलों का गठन किया जाय। ये दल विभिन्न क्षेत्रों में लगातार चक्रमण करते रहेंगे और बिना मास्क के घूमने वालों का चालान काटेंगे। इतना नहीं, ऐसे लोगों को अस्थाई जेल में भेजा जाएगा। उन्होंने कहा है कि हर हाल में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हर किसी को घर से बाहर निकलते वक्त मास्क लगाना ही होगा।

कलेक्टर ने निर्देश दिया है कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालो के विरूद्ध एफआईआर के साथ साथ उन्हे खुली जेल में भेजा जाएगा। उन्होने आरआरटी टीम को सख्त निर्देश दिए हैं कि अपने अपने क्षेत्रो मे कोरोना संक्रमण को रोकने एवं मास्क लगाने के लिए जनजागरूकता लाएं तथा बाहर से आने वाले लोगों की सघनता के साथ जांच कराई जाय तथा उन्हे होम क्वारंटीन किया जाए। उन्होने निर्देश दिया कि फीवर क्लीनिको मे अधिक से अधिक लोगो की जांच कराई जाय। सभी उपखंड अधिकारी अपने अपने उपखंडों में इस महामारी के रोकथाम के लिए होम क्वारंटीन किए गए लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी के लिए कंट्रोल रूम की स्थपना कराएं। होम क्वारेनटाईन किए गए व्यक्ति के घर पर लाल कलर का बोर्ड चस्पा कराएं तथा संबंधित दल के द्वारा समय समय पर निरीक्षण किया जाय कि संबंधित व्यक्ति नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।

उन्होने निर्देश दिया है कि जिला स्तर पर स्थापित किए जाने वाले जिला कोविड कमांड सेंटर मे 24 घंटे तैनात रहने के लिए कर्मचारियो की ड्यूटी लगाई जाय तथा ऐसे व्यक्ति जिनके घरों में होम क्वारंटीन के लायक सुविधा नहीं है उन्हे निर्धारित स्थलों पर क्वारंटीन कराया जाए। कलेक्टर मीना ने 45 वर्ष से उपर के व्यक्तियों को लक्ष्य के अनुरूप टीकाकरण कराने के निर्देश दिए।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned