चेकिंग के दौरान पशु तस्करों ने दरोगा को मारी गोली, लखनऊ रेफर

पशु तस्करों ने घटना को उस समय अंजाम दिया जब दरोगा राजमणि यादव पुलिस बल के साथ NH24 पर सदिग्ध वाहनों की चेकिंग कर रहे थे।

सीतापुर. यूपी के लखीमपुर खीरी में चेकिंग के दौरान पशु तस्करों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। इस दौरान दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई। वहीं पुलिस का दबाव देख पशु तस्कर जानवरों से लदी गाड़ी लेकर भागने लगे। जिस पर पुलिस के पीछा करने पर तस्करों ने एक दरोगा को गोली मार दी। सीने में गोली लगने से दरोगा राजमणि यादव गम्भीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही मैगलगंज कोतवाली पुलिस सहित आस पास के कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। आनन-फानन में घायल दरोगा को इलाज के लिये जिला अस्पताल सीतापुर लाया गया। जहां हालत गम्भीर देख घायल दरोगा को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। घटना को लेकर बदमाशों की गिरफ्तारी को लेकर लखीमपुर की सभी सीमाओं को सील कर चेकिंग अभियान शुरू कर दिया गया। वहीं एसपी लखीमपुर खीरी सीतापुर जिला अस्पताल पहुंचे।

 

जानकारी है कि पशु तस्करों ने घटना को उस समय अंजाम दिया जब दरोगा राजमणि यादव पुलिस बल के साथ NH24 पर सदिग्ध वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। तभी उन्हें सूचना मिली की कुछ पशु तस्कर एक गांव से कुछ मवेशियों को चोरी कर के ले जा रहे हैं। इस पर दरोगा राजमणि यादव ने सड़क पर नाकेबंदी करते हुये एक गाड़ी को रोकने के संकेत दिए, लेकिन गाड़ी में सवार पशु तस्कर गाड़ी न रोकते हुये मौके से भाग निकले थे। तभी तस्करों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई, जिसमें तस्करों ने दरोगा को गोली मार दी थी। जिसमे दरोगा राजमणि यादव गम्भीर रूप से घायल हो गए।

 

सकते में है पुलिस विभाग, अब सख्त कार्रवाई का इंतजार
मैगलगंज में दरोगा पर हुई फायरिंग से पुलिस विभाग पूरी तरह सकते में है और अब किसी सख्त कार्रवाई का इंतजार है। इस घटना ने लखीमपुर के अलावा, सीतापुर और शाहजहांपुर में भी हंगामा मचा दिया है। पुलिस पर लगातार अपराधियों से साठगांठ का आरोप लगता रहता है और अब देखने वाली बात यह है कि इस मामले को पुलिस कितना संजीदगी से लेती है।

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned