scriptदूसरे दिन भी खरीद शुरू होने की बाट जोहते रहे किसान | Farmers kept waiting for procurement to start even on the second day | Patrika News

दूसरे दिन भी खरीद शुरू होने की बाट जोहते रहे किसान

locationश्री गंगानगरPublished: Apr 03, 2024 02:42:47 am

Submitted by:

yogesh tiiwari

नैफेड-राजफेड, जयपुर की ओर से एचएण्डटी की आधारभूत दर स्वीकृत नहीं होने के कारण सादुलशहर में दूसरे दिन मंगलवार को भी खरीद एजेन्सी सादुलशहर क्रय-विक्रय सहकारी समिति लि. की ओर से समर्थन मूल्य पर सरसों की खरीद शुरू नहीं हो पाई।

दूसरे दिन भी खरीद शुरू होने की बाट जोहते रहे किसान

दूसरे दिन भी खरीद शुरू होने की बाट जोहते रहे किसान

सादुलशहर(श्रीगंगानगर). नैफेड-राजफेड, जयपुर की ओर से एचएण्डटी की आधारभूत दर स्वीकृत नहीं होने के कारण सादुलशहर में दूसरे दिन मंगलवार को भी खरीद एजेन्सी सादुलशहर क्रय-विक्रय सहकारी समिति लि. की ओर से समर्थन मूल्य पर सरसों की खरीद शुरू नहीं हो पाई। इस कारण सरसों उत्पादक किसान समर्थन मूल्य से कम भाव पर सरसों बेचने के लिए मजबूर हैं। प्रथम दिन सोमवार को खरीद एजेन्सी की ओर से पंजीकृत पांच किसानों को बुलाया गया था, लेकिन एचएण्डटी की आधारभूत दर स्वीकृत नहीं होने के कारण खरीद शुरू नहीं हो पाई। उप रजिस्ट्रार सहकारी समितियां, श्रीगंगानगर की ओर से दो बार ई-निविदा जारी की गई थी, लेकिन किसी भी एचएण्डटी ठेकेदार की ओर से ई-निविदा नहीं भरी गई।
————————————-
वीरान पड़ा सरसों खरीद केन्द्र
सादुलशहर क्रय-विक्रय सहकारी समिति लि. की ओर से नैफेड के लिए समर्थन मूल्य पर सरसों की खरीद 1 अप्रेल से खरीद केन्द्र टिण्डा मण्डी में शुरू की जानी थी, लेकिन श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ व अनूपगढ़ जिले में एचएण्डटी की आधारभूत दर स्वीकृत नहीं होने के कारण खरीद शुरू नहीं हो पाई, जिस कारण सादुलशहर में सरसों खरीद केन्द्र टिण्डा मण्डी भी वीरान नजर आया। दूसरी ओर धान मण्डी के पिड़ सरसों की ढेरियों से अटे हुए हैं। धान मण्डी में करीब 2500 क्विंटल सरसों की आवक हुई व सरसों के भाव 4500 रुपए से 5000 हजार रुपए प्रति क्विंटल तक चल रहे हैं।
https://www.dailymotion.com/embed/video/x8w7676
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो