सांसद मेनका गांधी के पत्र ने किया कमाल, सुलतानपुर जिला अस्पताल में निष्क्रिय पड़े वेंटिलेटर सक्रिय

MP Maneka Gandhi Letter amazing - शुक्रवार को सांसद मेनका गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र
- सीएम योगी और उनके सचिव ने तुरंत कार्रवाई की

By: Mahendra Pratap

Published: 03 May 2021, 11:20 AM IST

सुलतानपुर. MP Maneka Gandhi Letter amazing : सांसद मेनका गांधी का सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखे गए पत्र ने कमाल कर दिया। पत्र पर सीएम योगी और उनके सचिव ने तुरंत कार्रवाई की। सुलतानपुर जिला अस्पताल में निष्क्रिय पड़े वेंटिलेटर सक्रिय (Sultanpur District Hospital Ventilator Active) हो गए। और सुलतानपुर में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों का इलाज शुरू हो गया है।

सुलतानपुर के लिए दो टैंकर आक्सीजन व वेंटिलेटर विशेषज्ञ डॉक्टर उपलब्ध कराएं सीएम योगी : सांसद मेनका गांधी

सुलतानपुर जिला अस्पताल के इमरजेंसी में रखे गए सभी चारों वेंटिलेटर को चालू कर दिया गया है। वेंटीलेटर सक्रिय किए जाने के बाद इन वेंटीलेटर पर मरीजों का इलाज भी होने लगा है । डॉक्टर व स्टाफ नर्स की उपलब्धता सुनिश्चित होने पर गंभीर मरीजों को अन्यत्र रेफर किए जाने से निजात मिल गई है।

पूर्व सांसद वरुण गांधी ने उपलब्ध कराए थे वेंटिलेटर :- वर्ष 2017-18 में सुलतानपुर में मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य लाभ दिलाने के उद्देश्य से पूर्व सांसद वरुण गांधी ने 10 लाख रुपए की लागत से इमरजेंसी कक्ष के लिए चार वेंटिलेटर उपलब्ध कराए थे। साथ ही इसके संचालन के लिए डॉक्टर तथा स्टाफ नर्स की व्यवस्था के लिए शासन को पत्र लिखा था, लेकिन स्वास्थ्यकर्मियों की नियुक्ति नहीं हो सकी थी।

विशेषज्ञ डॉक्टर की नियुक्ति का अनुरोध बाकी :- इसके बाद कोरोना संक्रमण के दौर में कोविड-19 के मरीजों की लगातार वृद्धि को देखकर जिले की सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ और उनके सचिव को पत्र लिखकर वेंटिलेटर चालू किए जाने एवं ऑक्सीजन सिलेंडर भिजवाने की मांग की थी। साथ ही विशेषज्ञ डॉक्टरों की नियुक्ति करने का अनुरोध किया था।

नाराज सीएम योगी से शासन में आई तेजी :- बताया जा रहा है कि सांसद मेनका गांधी के पत्र मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी की नाराजगी के बाद शासन में तेजी आई और आनन-फानन में जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में वर्षों से पड़े चारों वेंटिलेटर को सक्रिय कर दिया गया है और मरीजों का इलाज शुरू कर दिया गया है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned