पत्थर निकालने के दौरान धसक गया खदान, दबकर गंभीर रूप से जख्मी युवक की मौत

Stone mines accident: घायल युवा ग्रामीण की अस्पताल ले जाते रास्ते में हो गई मौत (Death in the way), जान जोखिम में डाल जिले में धड़ल्ले से जारी है अवैध खनन (Illegal mining)

By: rampravesh vishwakarma

Published: 10 Jan 2021, 12:32 AM IST

सूरजपुर. खनिज विभाग की अनदेखी से जिले में पत्थरों की अवैध उत्खनन (Illegal mining) का कार्य तेजी से फल-फूल रहा है। लोग चंद पैसों के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर कार्यों को अंजाम दे रहे है।

ऐसे ही एक पत्थर खदान से पत्थर (Stone) निकाल रहे ग्रामीण की मौत हो गई है। घटना देवीपुर की है जबकि मृतक कोट गांव का रहने वाला है। घटना से गांव में मातम पसरा हुआ है।


सूरजपुर जिले के रामानुजनगर ब्लॉक अंतर्गत ग्राम कोट के उरांवपारा का निवासी 30 वर्षीय कलिंदर रोज की भांति पत्थर उत्खनन कार्य करने देवीपुर के पत्थर खदान में पहुंचा और पत्थर निकालते वक्त खदान धसकने से पत्थर का एक चट्टान इसके ऊपर आ गिरा और गंभीर रूप से घायल हो गया।

वहां मौजूद लोगों द्वारा उसे जिला चिकित्सालय भेजा गया, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। घटना की जानकारी लगते ही गांव में शोक का माहौल निर्मित हो गया। मृतक के 2 छोटे बच्चे हैं और परिवार कलिंदर पर ही आश्रित था।


असुरक्षित है पत्थर खदान
बताया जा रहा है कि काफी संख्या में ग्रामीण असुरक्षित पत्थर खदानों से लंबे समय से पत्थरों की निकासी करते हैं और क्रशर संचालकों को 1 हजार रुपये ट्रैक्टर की दर से बेचते हैं जिससे इनका गुजारा होता है। ऐसे पत्थर खदान खदानों में ग्रामीण काफी संख्या में जान जोखिम में डालकर अपने इस कार्य को अंजाम देते है।


खनिज विभाग गंभीर नहीं
खनिज विभाग (Mining department) का अंकुश नहीं होने से ऐसे अवैध कारोबार जिले में धड़ल्ले से फल-फूल रहे हैं। पत्थर खदानों में इससे पूर्व भी कई लोगों की जानें जा चुकीं हैं, बावजूद विभाग गंभीर नहीं है। बहरहाल पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ की है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned