कर्ज में डूबे सट्टेबाज मैनेजर ने की आत्महत्या

कर्ज में डूबे सट्टेबाज मैनेजर ने की आत्महत्या

Sandip Kumar N Pateel | Publish: Sep, 16 2018 08:18:25 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 08:18:26 PM (IST) Surat, Gujarat, India

अन्य एक हीरा व्यवसायी ने भी कर्ज के कारण जान दी

सूरत. आइपीएल के क्रिकेट मैचों पर सट्टा खेलने के चक्कर में कर्ज तले डूबे हीरा कंपनी के एक प्रबंधक ने तापी नदी में कूद कर जान दे दी। वहीं अन्य एक मामले में हीरा व्यवसाय से जुड़े एक व्यक्ति ने भी कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या कर ली।

 

पुलिस के मुताबिक वराछा रेशमभवन अपार्टमेंट निवासी और हीरा कंपनी में मैनेजर किशोर वेलजी देलवाडिय़ा (49) का शव शनिवार सुबह अमरोली-उत्राण के बीच तापी नदी से मिला। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का कब्जा लेकर जांच के लिए अस्पताल भेज दिया। मृतक की जेब से मिले मोबाइल फोन से पुलिस ने परिजनों से संपर्क किया। प्राथमिक जांच में पता चला है कि किशोर 11 सितम्बर से लापता था। उसे क्रिकेट सट्टा खेलने का शौक था और आइपीएल के दौरान वह पांच लाख रुपए हार गया था, जिससे उस पर कर्ज होने से वह परेशान रहता था।
अन्य एक मामले में हीराबाग के क्रिष्णानगर निवासी महेश मोहन अणधण (43) ने शुक्रवार सुबह घर में विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया था। परिजनों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। यहां शाम को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि महेश हीरा व्यवसाय से जुड़ा था और उस पर कर्ज था। आशंका है कि इसी कारण उसने आत्महत्या कर ली।


लॉ की छात्रा ने की आत्महत्या


सूरत. एलएलबी के प्रथम वर्ष में पढऩे वाली एक छात्रा ने शनिवार सुबह घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना डिंडोली की मानसी रेजिडेंसी में हुई। हालांकि आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक मृतका का नाम यामिनी प्रवीण सोलंकी (23) था। उसके माता-पिता की पहले ही मौत हो चुकी थी और वह मानसी रेजिडेंसी में अपनी मौसी के यहां रहती थी। शनिवार सुबह वह बेडरूम में फंदे पर लटकी पाई गई। पुलिस ने शव का कब्जा लेकर स्मीमेर अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया।

 

Ad Block is Banned