विद्युत की आंख मिचौली से मिलेगी निजात

विद्युत की आंख मिचौली से मिलेगी निजात

Sunil Mishra | Updated: 20 Dec 2018, 10:59:18 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

118 करोड़ की लागत से बन रहा पावर स्टेशन


सिलवासा. शहर में जल्दी ही विद्युत की आंख मिचौली से निजात मिल जाएगी। झंडा चौक पर ऊर्जा वितरण केन्द्र से वार्डों में भूमिगत केबल बिछाई जा रही हैं। पावर स्टेशन का निर्माण चल रहा है।
118 करोड़ की लागत से तैयार हो रहे पावर स्टेशन से शहर के सभी विस्तारों में भूमिगत विद्युत सप्लाई होगी। नगरवासियों को वर्ष 2019 के अंत तक पुराने खंभे एवं लाइनों से मुक्ति मिल जाएगी। इंजीनियर बी पटेल ने बताया कि झंडा चौक के मुख्य 66 केवी ट्रांसफार्मर से पूरे शहर में विद्युत सप्लाई होगी। इस लाइन से दो 20 मेगावाट ट्रांसफार्मर लगाने का काम चल रहा है। कुल प्रोजेक्ट में 66 केवी अंडर ग्राउंड लाइन 1.6 किमी, 11 केवी अंडरग्राउंड लाइन 6.7 किमी, एलटी अंडर ग्राउंड लाइन 418 किमी विस्तार में बिछाई जा रही है। संपूर्ण शहर में फीडर पिलर व सर्विस पिलर की संख्या 747 होगी। प्रोजेक्ट का काम एलएंडटी कंस्ट्रक्शन कर रहा है। टेंडरिंग में इस भूमिगत विद्युत प्रोजेक्ट के तैयार होने की अवधि 3 जुलाई 1019 है, लेकिन सडक़ों पर खुदाई में आने वाली दिक्कतों के कारण संपूर्ण प्रोजेक्ट तैयार होने में देरी हो सकती है।

एसआइए की सामान्य सभा में विकास कार्यों पर चर्चा
वापी. सरीगाम इंडस्ट्रीज एसोसिएशन की अर्धवार्षिक सामान्य सभा गुरुवार को एसआइए प्रमुख शिरीष देसाई की अध्यक्षता में संपन्न हुई। सभा की शुरुआत में मानद सचिव कौशिक पटेल ने गत महीने की गई गतिविधियों का ब्यौरा सदस्यों के समक्ष रखा। इसमें जेटको के नए पावर हाउस के पूर्ण रूप से कार्यरत होने के बाद विद्युत आपूर्ति में सुधार, विद्युत बोर्ड के नए उप कार्यालय के शीघ्र कार्यरत होने व इस्टेट में प्रस्तावित भूमिगत केबल प्रोजेक्ट की प्रगति के बारे में अवगत कराया। साथ ही इस दौरान किए गए सेमिनार तथा अन्य प्रवृत्तियों की जानकारी भी दी गई। प्रमुख शिरीष देसाई ने अपने उद्बोधन में सरीगाम औद्योगिक क्षेत्र को सर्वसुविधा युक्त मॉडल इस्टेट बनाने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए एसोसिएशन के नए कार्यालय व ऑडिटोरियम निर्माण के लिए किए जा रहे प्रयासों से अवगत कराया। उन्होंने सभी सदस्यों से इस कार्य में सहयोग की अपेक्षा की। उपस्थित कई सदस्यों ने सडक़ निर्माण में गुणवत्ता को लेकर सवाल उठाया, जिसके बारे में प्रमुख ने बरसात के दौरान खराब हुई सडक़ों के बारे में ठेकेदार से चर्चा कर समाधान का भरोसा दिया। सभा में एसआईए के सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned