ऑस्ट्रेलियन ओपन : 17 सालों में 15वीं बार सेमीफाइनल में पहुंचे फेडरर, छह बार रह चुके हैं विजेता

छह बार ऑस्ट्रेलियन ओपन अपने नाम करने वाले फेडरर पिछले 17 सालों में 15वीं बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं।

Mazkoor Alam

28 Jan 2020, 04:33 PM IST

मेलबर्न : स्विट्जरलैंड के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर (Roger Federer) ने मंगलवार को यहां सात मैच प्वाइंट्स बचाते हुए ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में जीत हासिल कर साल के पहले ग्रैंड स्लैम के अंतिम चार में प्रवेश कर लिया। बता दें कि छह बार ऑस्ट्रेलियन ओपन अपने नाम करने वाले फेडरर पिछले 17 सालों में 15वीं बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं।

नोवाक जोकोविक और रोजर फेडरर ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह

अमरीका के टेनीज सेंडगरेन को दी मात

तीसरी सीड रोजर फेडरर ने पुरुष एकल वर्ग के अंतिम आठ के मुकाबलेमें अमरीका के टेनीज सेंडगरेन को पांच सेटों तक चले कड़े संघर्षपूर्ण मुकाबले में 6-3, 2-6, 2-6, 7-6 (8), 6-3 से मात दी। 38 साल के फेडरर ने ऑस्ट्रेलियन ओपन में अब तक 102 सेट जीते हैं, लेकिन यह गेम उनके करियर के अब तक का सबसे यादगार मैचों में रहेगा।

फेडरर ने कहा- भाग्यशाली रहा

फेडरर के लिए यह मैच कितना कड़ा रहा, इसका पता जीत के बाद उनके दिए गए बयान से चलता है। उन्होंने कहा कि कभी-कभी आपको भाग्यशाली होना पड़ता है। वह सात मैच प्वाइंट्स टेनीज के नियंत्रण में नहीं थे। फेडरर ने कहा कि टेनिज बस शायद यह उम्मीद कर रहा था कि वह एक या दो शॉट मिस करे। फेडरर ने कहा कि वह अपना मैच खेले और भाग्यशाली रहे। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ता गया, उन्हें लय मिलती गई और उन पर से दबाव कम होता गया। फेडरर ने कहा कि वह इस जीत के लायक नहीं थे, लेकिन वह यहां हैं और जाहिर तौर पर बहुत खुश हैं। अब फेडरर का सेमीफाइनल में दूसरी सीड सर्बिया के नोवाक जोकोविक और 32वीं सीड कनाडा के मिलोस राओनिक के बीच होने वाले क्वार्टर फाइनल मुकाबले के विजेता से होगा।

चीन में कोरोना वायरस से महामारी, AITF ने फेड कप को कजाकिस्तान किया शिफ्ट

महिला एकल में बार्टी और हेनिन पहुंची अंतिम चार में

ऑस्ट्रेलियन ओपन में इससे पहले खेले गए महिला एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में विश्व नंबर एक ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी और अमरीका की सोफिया केनिन ने अपने-अपने मुकाबले जीतकर अंतिम चार तक का सफर किया। सेमीफाइनल में इन्हीं दोनों के बीच मुकाबला खेला जाएगा। बार्टी ने पिछले साल की उपविजेता चेक गणराज्य की सातवीं सीड पेत्रा क्वितोवा को 7-6, 6-2 से मात दी। इसी के साथ वह 36 साल के इतिहास में दूसरी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बनीं जो सेमीफाइनल में पहुंची हैं। बार्टी से पहले ऑस्ट्रेलिया की वेंडी टर्नबुल 1984 में इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंची थीं। वहीं सोफिया केनिन ने ट्यूनीशिया की ओंस जेबुउर को हरा किसी ग्रैंड स्लैम के अंतिम चार में पहली बार जगह बनाई।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned