मटकी फोड़ कार्यक्रम देखने गई किशोरी का कुएं में मिला शव

मटकी फोड़ कार्यक्रम देखने गई किशोरी का कुएं में मिला शव

vivek gupta | Publish: Sep, 11 2018 12:37:15 PM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

कांटे से निकाला किशोरी का शव

टीकमगढ़.खरगापुर कस्बे के वार्ड क्रमांक 8 में रहने वाली एक 16 वर्षीय किशोरी रविवार की शाम अपने घर से मटकी फोड़ कार्यक्रम देखने के लिए निकली परंतु वह रात तक वापस नहीं आई। परिजनों ने उसकी तलाश की परंतु उसका कुछ पता नहीं चला। तलाश का यह दौर सोमवार की सुबह भी चलता रहा। इसी बीच उक्त किशोरी का शव वार्ड 7 स्थित कुएं में मिला है। जानकारी लगने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर तलाश की और कुएं में किशोरी का शव मिल गया।


प्राप्त जानकारी के अनुसार खरगापुर कस्बे के वार्ड 8 निवासी कक्षा 11 वीं की छात्रा अमृता पुत्री नत्थू कुम्हार (16) रविवार की शाम 5 बजे कस्बे में होने वाले मटकी फोड़ कार्यक्रम को देखने के लिए गई थी। देर शाम तक जब वह वापस नहीं आई तो परिजनों ने उसकी तलाश की, परंतु उसका कुछ पता नहीं चला।

जिसके चलते परिजनों ने मामले की सूचना मौखिक तौर पर पुलिस को दी और तलाश करते रहे। सोमवार सुबह तलाश के दौरान वार्ड-7 में रहने वाले लोगों ने परिजनों एवं पुलिस को बताया कि यहां स्थित कुएं में देर रात कुछ गिरने की आवाज आई थी।

 

परिजनों को शंका हुई जिसके चलते पुलिस ने कांटा डालकर कुएं में तलाश की और उस किशोरी का शव कुएं में मिल गया। पुलिस ने शव का पंचनामा बनाकर बल्देवगढ़ स्वास्थ्य केन्द्र में शव का पोस्टमार्टम कराया और मामले में मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।


कांटे से निकाला किशोरी का शव

कुएं में किशोरी का शव होने की बात पता चलने के बाद भी स्थानीय पुलिस द्वारा शव को बाहर निकालने के लिए अन्य उपाय न करते हुए कांटे का ही उपयोग किया। हालांकि बाद में एक रस्सी का सहारा भी दिया गया परंतु किशोरी के शव को इस तरह निकालना कितना सही था।

हालांकि इस सवाल पर थाना प्रभारी धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि मैं मौके पर नहीं था, आप विवेचक से बात कर लें। वहीं एएसपी एसके जैन के मुताबिक शव परिजनों एवं ग्रामीणों के सामने ही निकाला गया था, हां पुलिस अगर चाहती तो और भी अधिक बुद्धिमत्ता का प्रयोग कर शव को किसी अन्य तरीके से भी निकाल सकती थी।

Ad Block is Banned