scriptTonk will run on the track of development | video: विकास की पटरी पर दोड़ेगा टोंक, इन्वेस्ट समिट में हुए 623 करोड़ के एमओयू | Patrika News

video: विकास की पटरी पर दोड़ेगा टोंक, इन्वेस्ट समिट में हुए 623 करोड़ के एमओयू

कृषि ऑडिटोरियम में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम टोंक इन्वेस्ट समिट में 623 करोड़ रूपये के 52 एमओयू एवं एलओआई किए गए है, जो टोंक जिले के औद्योगिक विकास में मील का पत्थर साबित होंगे।

 

टोंक

Published: January 13, 2022 07:07:22 pm

टोंक. राज्य के अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ , उपनिवेशन, कृषि सिंचित क्षेत्र विकास एवं जल उपयोगिता विभाग व जिला प्रभारी मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश में औद्योगिक विकास के नए आयाम स्थापित हुए है। राज्य सरकार की नीति और योजनाबद्ध विकास से टोंक जिले में उद्यम एवं रोजगार के अवसरों के द्वार खुलेंगे।
video: विकास की पटरी पर दोड़ेगा टोंक, इन्वेस्ट समिट में हुए 623 करोड़ के एमओयू
video: विकास की पटरी पर दोड़ेगा टोंक, इन्वेस्ट समिट में हुए 623 करोड़ के एमओयू
जिला प्रभारी मंत्री राजस्थान इन्वेस्ट समिट के अन्तर्गत गुरूवार को जिला मुख्यालय के कृषि ऑडिटोरियम में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम टोंक इन्वेस्ट समिट में मुख्य अतिथि के पद से सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस समिट में 623 करोड़ रूपये के 52 एमओयू एवं एलओआई किए गए है, जो टोंक जिले के औद्योगिक विकास में मील का पत्थर साबित होंगे।
इस निवेश से जिले के लगभग 11 हजार 300 लोगों को प्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। इसके अतिरिक्त कई लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इस दौरान प्रभारी मंत्री द्वारा दो-दो इकाईयों का वर्चुअल शिलान्यास एवं उद्घाटन किया गया।
इस मौके पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राजस्थान इन्वेस्ट समिट का आयोजन सभी जिलों में हो रहा है। इससे राज्य में 550 लाख करोड़ का निवेश आने की संभावना है।
निवेश की प्रक्रिया से जुड़े लगभग 15 विभागों की सुविधाओं का लाभ उद्यमी को एक ही छत के नीचे मिले ऐसा माहौल पूरे प्रदेश में बनाया गया है। सरकार की योजनाओं का लाभ उद्यमियों को मिले, इसलिए योजनाओं का सरलीकरण किया गया है। जिससे उद्यमियों को उद्योग लगाने में किसी असुविधा का सामना न करना पड़े।
टोंक जिला प्रभारी मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि टोंक सतही जल एवं खाद्य तेल उत्पादन में विकसित है। यहां के लोगों में हुनर की कमी नहीं हैए, बस लोगों को जागरूक व दिशा देने की जरूरत है। इसमें राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन कोई कसर बाकी नहीं रखेगा।
टोंक में स्लेट स्टोन टाइल्स, सिलिका प्रोसेसिंग, एग्रोफूड प्रोसेसिंग, ग्रेनाइट, मिनरल सेक्टर, वेयर हाउस, सॉल्वेंट एवं ऑयल प्लांट, ऊनी नमदेए, कालीन, दरी, कसीदे आदि के काम में विकास की अपार संभावनाएं है। उन्होने कहा कि जिला प्रभारी मंत्री होने के नाते उनका हमेशा यही प्रयास रहेगा की टोंक के विकास में बेहतर काम हों।
कार्यक्रम के दौरान उद्योग मंत्री शकुंतला रावत ने वर्चुअल संबोधन किया और कहा कि मुख्यमंत्री लघु प्रोत्साहन योजनाएं रिप्स योजनाए वन स्टॉप शॉप आदि योजनाओं के रूप में प्रदेश के मुख्यमंत्री का विजन है कि राज्य में ज्यादा से ज्यादा उद्यमी निवेश कर उद्योग स्थापित करें और उन्हें सरकार की सभी प्रोत्साहन योजनाओं का लाभ मिले। उद्योग मंत्री ने सभी उद्यमियों को आश्वस्त किया की उनकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक विकास की दिशा में वन स्टॉप शॉप की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।
इस अवसर पर अपने सम्बोधन में निवाई-पीपलू विधायक प्रशांत बैरवा ने कहा कि जिला स्तर पर इन्वेस्ट समिट का आयोजन राज्य सरकार का सराहनीय प्रयास है। राज्य सरकार की ओर से औद्योगिक विकास के लिए बनाई गई नीतियों एवं योजनाओं का उद्यमियों को जिले में ज्यादा से ज्यादा निवेश कर लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने निवाई-पीपलू विधानसभा क्षेत्र में समिट के दौरान सबसे अधिक निवेश आने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि उद्यमियों को निवेश के लिए बेहतर माहौल मिले इसके लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है।
राजस्थान फाउंडेशन के चैयरमेन धीरज श्रीवास्तव ने निवेशकों को अभिनन्दन किया और कहा कि राज्य सरकार एवं राजस्थान फाउंडेशन उद्यमियों के साथ हमेशा खड़ा है। उन्होंने वर्चुअल सम्बोधन देते हुए समिट की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी।
समिट में जिले में निवेश संभावनाओं पर पीपीटी एवं लघु फिल्म के माध्यम से निवेशकों को टोंक जिले में निवेश की संभावनाओं के बारे में बताया गया। साथ ही अतिथियों द्वारा टोंक इन्वेस्ट समिट प्रेशर का विमोचन किया गया।
समिट में जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल, अतिरिक्त जिला कलेक्टर मुरारी लाल शर्मा, उपखण्ड अधिकारी टोंक गिरधर, उद्योग एवं वाणिज्य मुुख्यालय जयपुर के अतिरिक्त निदेशक विपुल जानीए रीको की सलाहकार बिन्दु करूणाकर, रीको के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक एलसी मैधानी, रीको के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक कमल कुमार मीना, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक शैलेन्द्र शर्मा एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी, जिले के उद्योग संघो के पदाधिकारी एवं उद्यमी उपस्थित रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.