scriptभींडर में फूड पॉइजनिंग के बाद दूसरे दिन पहुंचे सीएमएचओ व फूड इंस्पेक्टर, सैंपल लेकर भेजे लैब | Patrika News
उदयपुर

भींडर में फूड पॉइजनिंग के बाद दूसरे दिन पहुंचे सीएमएचओ व फूड इंस्पेक्टर, सैंपल लेकर भेजे लैब

भींडर में फूड पॉइजनिंग से 180 से अधिक लोगों के बीमार होने का मामला

उदयपुरJun 03, 2024 / 11:56 pm

Shubham Kadelkar

भींडर चिकित्सालय में रोगियों से चर्चा करते सीएमएचओ सहित चिकित्सा टीम

भींडर. नगर में स्थित चौबीसा समाज के नोहरे में रविवार को सामूहिक भोज कार्यक्रम में सामे की खिचड़ी खाने से बीमार हुए 180 से अधिक लोगों के मामले पर संज्ञान लेते हुए सोमवार सुबह मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गुलाम मोहम्मद सैय्यद, भींडर एसडीएम रमेश बहेड़िया, फूड इंस्पेक्टर अशोक गुप्ता सहित चिकित्सा टीम मौके पर पहुंची। टीम ने फूड पॉइजनिंग को लेकर मामले की ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. संकेत जैन से पूरी जानकारी ली। साथ ही टीम ने आशा सहयोगिनी से सर्वे करवाकर डाटा कलेक्ट किया। इसके बाद जिस दुकान से कच्चा सामान खरीदा गया था, उसकी सामग्री के सैंपल लिए गए। वहीं, जहां से सामूहिक भोज में पेयजल सप्लाई हुआ, उसके भी सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेजे गए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सैयद ने चिकित्सा व्यवस्थाओं को परखने के लिए मरीज़ की पर्ची अपने हाथ में लेकर अनजान बनकर लाइन में लगकर दवा वितरण केंद्र से दवाइयां ली।

चिकित्सा व्यवस्थाओं की सराहना की

चौबीसा समाज भींडर के नोहरे में एकादशी के उपलक्ष्य में आयोजित सामूहिक भोज में सामे की खिचड़ी खाने से बीमार लोगों की चिकित्सा टीम द्वारा तत्परता से इलाज करने व समय पर विभाग को जानकारी देने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी संकेत जैन सहित चिकित्सा टीम की सराहना की। बता दें, फूड पॉइजनिंग से रोगियों के पेट दर्द, जी मचलाना एवं चक्कर आना की शिकायत हुई थी और एक के बाद एक रोगी चिकित्सालय पहुंचे, जहां उपस्थित मेडिकल टीम ने सभी रोगियों का इलाज किया।

मौके पर मौजूद रही चिकित्सा टीम

उदयपुर से डिजास्टर मैनेजमेंट की टीम में डिप्टी सीएमएचओ डॉ. अंकित जैन, एपिडेमोलॉजिस्ट सत्यनारायण वैष्णव व डाडमचन्द्र रात को ही भीण्डर चिकित्सालय पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। मेडिकल टीम में ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. संकेत जैन, डॉ. आकाश सोनी, डॉ. प्रवीण, डॉ. रवि, डॉ. संदीप, डॉ. अजीत सिंह, डॉ. कुणाल एवं नर्सिंग ऑफिसर सुरेश दक, पंकज कुमार चौबीसा, अतुल आमेटा, विराट चौबीसा, प्रकाश चंद्र मेघवाल, राजमल कटारा, रजनीश आर्य, भूपेंद्र जोशी, पूजा सेन, प्रमिला मीणा, बद्री लाल प्रजापत, दीपेश रेगर, मोहित व्यास आदि तैनात रहे।

अपील: गर्मी में सामूहिक भोजन से बनाए दूरी

भींडर में हुई फूड पॉइजनिंग की घटना के बाद ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. संकेत जैन ने लोगों से अपील की है कि जहां तक हो, तेज गर्मी में सामूहिक भोजन से बचे व सामूहिक भोजन पर रोक लगे। गर्म खाना बना हुआ ही खाए। तेज गर्मी को देखते हुए भोजन के मैनू का भी ध्यान में रखा जाए। जिससे इस तरह की घटना से बचा जा सके।

इनका कहना है

भींडर की घटना की जानकारी मिलते ही हम रात को ही वहां पहुंच गए। सोमवार सुबह जहां सामूहिक भोजन बना था, वहां पहुंचे। लेकिन वहां फूड नहीं मिला। संबंधित दुकानदार जहां से कच्चा सामान खरीदा था। वहां से मिर्च, सामा, घी, तेल के सैंपल लेकर जांप्के लिए भेजे गए हैं।
-अशोक कुमार गुप्ता, फूड इंस्पेक्टर, उदयपुर

घटना के तुरंत बाद मैं चिकित्सालय पहुंचकर रोगियों से मिला हूं। कुछ रोगी बीपी बढ़ने की वजह से इलाज ले रहे थे, बाकी सभी को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। सामग्री के सैंपल लिए गए हैं, जांच रिपोर्ट आने के बाद पता चल पाएगा। मैंने स्वयं ने लाइन में खड़े रहकर चिकित्सा व्यवस्था को जांचा। जहां व्यवस्था सराहनीय मिली। पीडीसी रूम से ग्लास हटाने के निर्देश दिए है।
-डॉ. गुलाम मोहम्मद सैयद, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी उदयपुर

Hindi News/ Udaipur / भींडर में फूड पॉइजनिंग के बाद दूसरे दिन पहुंचे सीएमएचओ व फूड इंस्पेक्टर, सैंपल लेकर भेजे लैब

ट्रेंडिंग वीडियो