टीम मेडिसीन: ना रात देखी ना दिन, फोन की घंटी बजी तो दौड़ पड़े दवाइयां उपलब्ध करवाने

टीम मेडिसीन

By: bhuvanesh pandya

Updated: 09 Jun 2021, 08:54 AM IST

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. ये है टीम मेडिसीन, जो हमेशा पूरी तरह तत्पर और तैयार है काम के लिए। 24 घंटे इस टीम के साथी इसलिए मुस्तैद रहते हैं ताकि किसी मरीज की जान दवाइयों की कमी से नहीं चली जाए। आरएनटी मेडिकल कॉलेज के इस दवा वेयर हाउस को अर्से से संभाल रही ये टीम डॉ. दीपक सेठी की अगुवाई में कोरोनाकाल से भी बखूबी निपट रही है। क्या सुबह की सात बजे और क्या रात की दो बजे, ये टीम जब भी किसी हॉस्पिटल के स्टोर को जो भी दवा चाहिए, वह उपलब्ध करवाती रही है। ना केवल जिले बल्कि संभाग के अन्य जिलों के ड्रग स्टोर को भी ये दवा दे रहे हैं।

----
सीएमएचओ के ड्रग स्टोर से लेकर विभिन्न हॉस्पिटलों में पहुंचाते हैं दवा.

राजस्थान मेडिकल सर्विस कॉरपोरेशन लिमिटेड , जयपुर (आरएमएसएसीएल) के माध्यम से दिन और रात में कभी भी किसी भी समय इस ड्रग हाउस पर दवाइयों के ट्रक पहुंचते हैं। इन दवाओं को तय स्थान पर गिनकर रखवाने के लिए टीम के अधिकांश सदस्य जाते हैं। साथ ही यहां से अन्य जिलों में भेजने व हॉस्पिटलों के स्टोर तक भेजने का कार्य भी ये टीम करती है ताकि किसी भी मरीज की जान को आफत ना हो जाए।
-----

कोरोना में बीमारियों से बचाव को दवा दे रही टीम
कोविड महामारी के दौर में बीमारी से बचाव एवं इलाज के लिए आवश्यक औषधियों एवं सामग्रियों की उपलब्धता इसके प्रबन्धन में एक अति महत्वपूर्ण क ड़ी है। इसके लिए उदयपुर संभाग के सभी जिलों में इनकी उपलब्धता बनाए रखने के लिए मेडिकल कॉलेज ड्रग वेयरहाउस नोडल ऑफिसर डॉ. सेठी सहित टीम के सदस्य भरत पारीक, चन्द्रभान सिंह झाला, दीपक सोनी, सीता धाबाई, मंजू नागदा एवं अन्य सदस्य महामारी के पिछले दौर से ही इस कार्य में लगातार जुटे हैं। इनकी टीम के अन्य सहायक सदस्य सुरेश, पवन, इन्दरलाल, सुन्दर लाल, पन्नालाल एवं संतोष ने भी लगातार कार्य किया है। डॉ. सेठी ने बताया कि आपदा के दौरान चयनित इलेक्टिव ऑपरेशन बन्द हो जाने एवं कोविड के अलावा अन्य मरीजों की संख्या में कमी आने की वजह से वार्ड एवं ऑपरेशन का कार्य बहुत अधिक नहीं है। ऐसे में पूरी टीम के साथ पूरे दिन एवं आवश्यकता पडऩे पर रात को भी औषधियों की उपलब्धता एवं प्रबन्धन किया जा रहा है।

-----
दवाओं के साथ-साथ अन्य सामग्री भी

उदयपुर जिले के साथ-साथ संभाग के अन्य सभी जिलों में भी आवश्यक औषधियों एवं सामग्रियों की उपलब्धता लगातार बनाए रखी है। पिछले माह से राज्य सरकार के निर्देशानुसार प्राइवेट अस्पतालों को भी उनकी आवश्यकता, उपयोगिता एवं उपलब्धता के आधार पर औषधियां उपलब्ध करवाई जा रही हैं।

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned