scriptudaipur local news | संदिग्ध युवकों का सुराग नहीं, तीसरे दिन भी पुलिस के हाथ खाली | Patrika News

संदिग्ध युवकों का सुराग नहीं, तीसरे दिन भी पुलिस के हाथ खाली

locationउदयपुरPublished: Feb 05, 2024 12:44:42 am

Submitted by:

surendra rao

मौत के कारणों का खुलासा नहीं

युवक का शव चिकित्सकों के हवाले कर तीन जनों के फरार होने का मामला

संदिग्ध युवकों का सुराग नहीं, तीसरे दिन भी पुलिस के हाथ खाली
संदिग्ध युवकों का सुराग नहीं, तीसरे दिन भी पुलिस के हाथ खाली
उदयपुर. भींडर.कानोड़. बड़ा राजपुरा गांव निवासी एक व्यक्ति की मौत के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। उसकी हत्या हुई या दुर्घटना में मौत हुई इसका पता नहीं चल पाया है। जहां परिजन हत्या का आरोप लगा रहे हैं, वहीं पुलिस दोनों पहलुओं को प्रमुखता देते हुए जांच में जुटी है। इधर, मृत युवक को चिकित्सालय ले जाने वाले युवकों की पहचान जरूर हो गई है, लेकिन अभी तक संदिग्ध युवकों का कोई सुराग पुलिस को नहीं लग पाया है, तीसरे दिन भी पुलिस के हाथ खाली हैं । हालांकि पुलिस ने परिजनों को थाने बुलाकर पूछताछ जरूर की, लेकिन चिकित्सालय पहुंचाने वाले तीनों ही युवकों के मोबाइल बंद होने से युवक की मौत के कारण अब तक पहेली बने हुए है। मृतक के परिजन विधायक उदय लाल डांगी से लेकर मंत्री तक रहस्य से पर्दा उठाने वह दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की गुहार लगा रहे हैं । विधायक डांगी ने भी मामले को लेकर तत्परता दिखाते हुए पुलिस प्रशासन के साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर जल्द मामले का खुलासा करने व दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं । विधायक डांगी रविवार को मृतक के निवास बड़ा राजपुरा गांव पहुंचे, जहां स्थानीय लोगों ने आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग रखी। इस पर विधायक ने जिला पुलिस अधीक्षक से चर्चा कर जल्द खुलासा करने का आश्वासन दिया । वहीं स्थानीय लोग सहकारिता मंत्री गौतम दक के पास भी पहुंचे और मामले की जांच अन्य अधिकारी को सौंपने की मांग की है । इधर जांच अधिकारी सीआई पुनाराम गुर्जर ने बताया कि पुलिस अनुसंधान में जुटी है, टीम में गठित कर फरार आरोपियों को की तलाश की जा रही है, जल्द खुलासा किया जाएगा ।
भींडर से पूर्व डूंगला निजी अस्पताल में युवक के इलाज के लिए पहुंचे

गौरतलब है कि गुरुवार सुबह करीब 8:30 बजे तीन युवकों ने कार से मदन मोहन का शव भींडर चिकित्सालय पहुंचाया था , इससे पूर्व की जो जानकारी सामने आई है वह भी चौंकाने वाली है, शुक्रवार को शाम करीब 7:00 बजे तीन युवक अपने साथ मदन मोहन को घायलावस्था में लेकर महात्मा क्लिनिक डूंगला पर इलाज के लिए पहुंचे थे, जहां उसके हाथ में फ्रेक्चर होने की वजह से उसे उदयपुर जाने को कहा था।
नए कपड़े खरीदने की बात भी आ रही सामने

मृत युवक के शरीर पर जो कपड़े चिकित्सालय पहुंचने पर दिखे उन कपड़ों को लेकर परिजनों ने साफ इनकार कर दिया परिजनों का कहना है कि मदन मोहन जींस पैंट वह ब्लैक टी-शर्ट पहनकर घर से निकला था और जो कपड़े उसने पहन रखे हैं वह उसके नहीं है और मौके की स्थिति से भी यह साफ हुआ कि मृत युवक के शरीर पर नई लोअर वह शर्ट पहन रखा था जो नया खरीदा लग रहा था ।
तीनों युवकों के मोबाइल स्विच ऑफ, आशंका गहराई

मदन मोहन का शव भींडर चिकित्सालय पहुंचाने के बाद तीनों ही युवक फरार है , वही तीनों के मोबाइल भी बंद होने से हत्या की आशंका और गहरा गई है।

ट्रेंडिंग वीडियो