scriptVishwa Hindu Parishad protest against Gays destination wedding in Udaipur Rajasthan News | राजस्थान में समलैंगिकों के डेस्टिनेशन वेडिंग करने पर हिंदू संगठनों ने किया विरोध-प्रदर्शन, कलक्टर को सौंपा ज्ञापन | Patrika News

राजस्थान में समलैंगिकों के डेस्टिनेशन वेडिंग करने पर हिंदू संगठनों ने किया विरोध-प्रदर्शन, कलक्टर को सौंपा ज्ञापन

locationउदयपुरPublished: Nov 25, 2023 10:44:05 am

Submitted by:

Kirti Verma

Rajasthan News: लेकसिटी में देवउठनी एकादशी पर यूं तो शहर में सैंकड़ों शादियां हुई, लेकिन एक शादी ने सभी को चौंका दिया। दरअसल, शहर में एक समलैंगिक डेस्टिनेशन वेडिंग हुई।

Gay wedding

Rajasthan News: लेकसिटी में देवउठनी एकादशी पर यूं तो शहर में सैंकड़ों शादियां हुई लेकिन एक शादी ने सभी को चौंका दिया। दरअसल, शहर में एक समलैंगिक डेस्टिनेशन वेडिंग हुई। इसमें एक एनआरआई युवक और एक ब्रिटिश युवक शादी के बंधन में बंधे। समलैंगिक शादी की बात सामने आने पर हिंदू संगठनों ने विरोध दर्ज कराया। जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा और लोगों की भावनाएं आहत होने की बात कही।

दो दिन उदयपुर में हुए आयोजन
जानकारी के अनुसार एनआरआई निलय गुप्ता न्यूयॉर्क, अमरीका के रहने वाले हैं और उनके साथी लंदन के टेलर फ्लेचेट हैं। दोनों की मुलाकात पहली बार न्यूयॉर्क में हुई थी। इसके बाद दोनों दोस्त बने और फिर दोस्ती प्यार में बदली। दोनों ने साथ रहने का फैसला किया तो टेलर लंदन से न्यूयॉर्क शिफ्ट हो गए। इसके बाद दोनों एक-दूसरे के परिवारों से मिले और शादी की अनुमति ली। परिवारों की रजामंदी के बाद उदयपुर को डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए चुना। जहां गुरुवार को मेहंदी, रिंग सेरेमनी, संगीत और कॉकटेल पार्टी हुई। वहीं, शुक्रवार को सुबह हल्दी की रस्म हुई। इसके बाद शाम 7 बजे से बारात निकली और शादी की रस्में निभाई गई। दोनों ने एक-दूसरे के साथ हिंदू रीति-रिवाज से फेरे लिए। शादी के लिए उन्होंने परंपरागत भारतीय परिधान ही पहने।

यह भी पढ़ें

हनीट्रेप मर्डर : प्रिया सेठ व उसके प्रेमी सहित तीन को उम्रकैद

हिंदू धार्मिक परंपराओं के साथ जनभावनाओं को ठेस
उधर, विश्व हिंदू परिषद की ओर से जिला कलक्टर को इस समलैंगिक विवाह को रोकने के लिए ज्ञापन देकर अवगत कराया गया। जिसमें बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने ऐसे विवाह को मान्यता नहीं दी है। ऐसे में ये विवाह विधि सम्मत नहीं है। साथ ही ये विवाह हिंदू धार्मिक परंपराओं तथा भावनाओं के खिलाफ होकर सामाजिक व्यवस्था के विपरीत है। इससे जन भावनाओं को ठेस पहुंच रही है। यह विवाह उदयपुर में होने से शहर की छवि पर भी विपरीत प्रभाव पड़ा है। इस दौरान विहिप के चित्तौड़ सह प्रांत मंत्री सुंदर कटारिया, महानगर अध्यक्ष सुखलाल लोहार, उपाध्यक्ष देवेंद्र जावलिया, मंत्री अशोक प्रजापत, सह मंत्री आकाश सोनी, अजीत सिंह, बजरंग दल संयोजक ललित लोहार उपस्थित रहे।

ट्रेंडिंग वीडियो