अब इन शर्तों को मानें बिना श्रद्धालु नहीं कर सकेंगे महाकाल मंदिर में एंट्री, नियम तोड़ने वाले पर लग सकता है महाकाल में प्रवेश पर बैन

सावन सोमवार पर महाकाल मंदिर में प्रवेश लेने से पहले जान ले ये नियम।

By: Faiz

Published: 01 Aug 2021, 05:46 PM IST

उज्जैन/ मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित महाकाल के दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को लेकर अब जिला प्रशासन नियमों के तहत चलने को लेकर सख्ती बढ़ाने जा रहा है। कोरोना की तीसरी लहर की आशंक को देखते हुए प्रशासन ने महाकाल दरबार में प्रवेश लेने वाले श्रद्धालुओं में अगर कोई शख्स मास्क नहीं लगाया होगा, तो उन्हें स्पॉट फाइन भरना पड़ेगा। इसपर भी अगर कोई व्यक्ति नहीं माना, तो आने वाले दिनों में उनके प्रवेश पर बैन लगा दिया जाएगा। प्रशासन द्वारा महाकाल मंदिर में सावन के दूसरे सोमवार को आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़, शाम को सवारी में शामिल होने वालों और उज्जैन में मिले नए संक्रमितों को देखते हुए ये निर्णय लिया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP में फिर बढ़ा कोरोना का खतरा : एक सप्ताह में दोगुनी हो गई नए केस वाले जिलों की संख्या, छोटे इलाकों में सामने आ रहे संक्रमित


कलेक्टर ने सावन के दूसरे सोमवार के लिये व्यवस्थाओं का जायजा लिया

बता दें कि, उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह, एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी, एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह समेत जिले के आल अधिकारी शनिवार देर शाम को महाकाल मंदिर व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे थे। यहां उन्होंने रविवार और सोमावर को आने वाले श्रद्धालुओं को चारधाम के पास से बेरिकेटिंग कराई साथ ही, महाकाल प्रबंधन को निर्देश दिये कि, इसी बेरिकेडिंग से श्रद्धालुओं को मंदिर परिसर में प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद श्रद्धालु शंख द्वार से मंदिर प्रांगण में प्रवेश लेंगे।


कलेक्टर ने जारी की चेतावनी

इस बीच कोरोना गाइड लाइन के नियमों की अनदेखी करने वाले श्रद्धालुओं को कलेक्टर आशीष सिंह ने चेतवानी जारी करते हुए कहा कि, कोई भी श्रद्धालु महाकाल मंदिर में बिना मास्क लगाए पाया जाता है, तो उससे स्पॉट फाइन वसूला जाएगा। इसके बाद भी श्रद्धालु लगातार नियमों की अनदेखी करते दिखा, तो उनका महाकाल मंदिर में प्रवेश वर्जित कर दिया जाएगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- कोरोना काल में लाभ कमाने मध्य प्रदेश में संचालित हो गए थे कई नर्सिंग होम, सरकार ने 60 पर जड़ा ताला, 392 को भेजा नोटिस

 

कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने को तैयार उज्जैन

उज्जैन कलेक्टर का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की पूरी तैयारी की जा चुकी है। इसके लिए 4 नए ऑक्सीजन प्लांट भी तैयार कर लिये गए हैं। एक बारि फिर कलेक्टर ने उज्जैन आने वाले श्रद्धालुओं से सख्त लहजे में कहा कि, सभी कोरोना गाइड लाइन का ध्यान अवश्य रखे।


पिछले सोमवार बिगड़ गए थे हालात

आपको बता दें, कि बीते सोमवार महाकाल में सिर्फ 5 हजार श्रद्धालुओं को प्रवेश की अनुमति दी गई थी। बावजूद इसके करीब 70 हजार श्रद्धालु वहां पहुंच गए थे। इस कारण शहर की व्यवस्था बिगड़ गई थी। मंदिर में सीधे प्रवेश न मिलने और वीआईपी एंट्री से नाखुश सामान्य भक्तों ने मंदिर के बेरिकेड तक तोड़ दिये थे। पिछले सप्ताह घटित इन्हीं अव्यवस्थाओं को मद्देनजर रखते हुए प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं को लेकर सख्त कदम लिया गया है। क्योंकि, पहले सोमवार की तरह अगर इस सप्ताह भी ज्यादा श्रद्धालु आए, तो एक बार फिर दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। इसी लिये प्रशासन ने इस बार बेरिकेडिंग भी अलग ढंग से की है।

 

पवा वाटरफॉल पर सैलानियों का जमावड़ा - देखें Video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned