महाकाल दरबार में दिवाली: भस्म आरती में अभ्यंग स्नान, रूप चौदस पर विशेष श्रृंगार

महाकाल ज्योतिर्लिंग को गरम जल से कराया जाएगा स्नान, यह क्रम अब चार मास तक चलेगा...।

By: Manish Gite

Published: 13 Nov 2020, 01:31 PM IST

उज्जैन. राजाधिराज भगवान महाकाल के दरबार में सबसे पहले त्योहार मनाए जाने की परंपरा रही है, उसी तर्ज पर रूप चौदस का पर्व भी बाबा के अभ्यंग स्नान के साथ मनाया जाएगा। शनिवार को सुबह 4 बजे होने वाली भस्म आरती के दौरान बाबा महाकाल को चंदन के साथ-साथ अन्य सुगंधित द्रव्यों से स्नान कराया जाएगा।

पुजारी आशीष गुरु के अनुसार सबसे पहले हर त्योहार की शुरुआत भगवान महाकालेश्वर के दरबार से ही होती है, इसी क्रम में शनिवार को रूप चौदस के मौके पर सुबह 4 बजे होने वाली भस्म आरती के दौरान बाबा को अभ्यंग स्नान कराया जाएगा, जिसमें चंदन के बुरादे, इत्र व अन्य सुगंधित द्रव्यों से बाबा स्नान करेंगे और रूप निखारेंगे। शहर में इसके बाद ही रूप चौदस का आयोजन होगा।

गरम जल से स्नान होगा शुरू

आशीष गुरु ने बताया कि इसी दिन से महाकाल बाबा को गरम जल से स्नान कराने का क्रम भी शुरू हो जाएगा। यह क्रम चार मास तक चलता है, अर्थात फाल्गुन मास तक बाबा को गरम जल से ही स्नान कराया जाएगा।

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned