प्रदर्शन करने यूर्निवसिटी आ रही छात्राओं ने पुलिस ने लिए 500 रूपए

प्रदर्शन करने यूर्निवसिटी आ रही छात्राओं ने पुलिस ने लिए 500 रूपए

Gopal Swaroop Bajpai | Publish: Feb, 15 2018 03:36:55 PM (IST) Ujjain, Madhya Pradesh, India

बीकॉम का रिजल्ट बिगडऩे के विरोध में देवास से विक्रम विश्वविद्यालय पहुंची छात्राएं, पहले कॉपी दिखाने का आश्वासन दिया और फिर पलट गए अधिकारी

उज्जैन. देवास कन्या महाविद्यालय की बीकॉम पांचवे सेमेस्टर की छात्राओं का रिजल्ट बिगड़ गया। इनकम टैक्स प्रश्रपत्र में कक्षा की लगभग छात्राओं को शून्य अंक मिला है। छात्राए इसी गड़बड़ी का विरोध करने के लिए गुरूवार को विश्वविद्यालय पहुंची, लेकिन इससे पहले छात्राओं को पुलिस को 500 रूपए रिश्वत देनी पड़ी। दरअसल, छात्राओं ने देवास से उज्जैन के लिए एक मैजिक गाड़ी बुक की। यह मैजिक गाड़ी जैसे ही उज्जैन सीमा के अंतर्गत नागझीरी में प्रवेश की। तो सड़क पर खड़े जवानों ने मैजिक को रोक लिया और फिर छात्राओं ने 500 रूपए देकर गाड़ी को छुटवाया।


3 हजार का सौंदा 500 में तय
विश्वविद्यालय की परीक्षा में फेल छात्राओं ने पुलिस से सौदेबाजी में अपनी योग्यता का प्रदर्शन कर दिया। पुलिस ने जैसे ही ड्रायवर को घेरा। तो छात्राओं ने विरोध कर दिया।छात्राओं ने कहा कि हम विवि में प्रदर्शन करने जा रहे है। पुलिस नहीं मानी। तो छात्राओं ने कई तरह के तर्क दिए,लेकिन पुलिस जवान 3 हजार रूपए के चालान पर अड़ गए। तो छात्राओं ने ले देकर मामले को निपटाने की कोशिश की। इस कोशिश में 500 रूपए में सौदा तय हो गया।


नारेबाजी की, चैनल पर दिया धरना
विवि में पहुंची छात्राओं ने मुख्यद्वार पर जमकर प्रदर्शन किया और विवि के खिलाफ नारेबाजी की। कुलपति व अन्य अधिकारी छात्राओं से बात करने पहुंचे और आश्वासन देकर चले गए। इसके बाद छात्राओं ने चैनल पर धरना शुरू कर दिया। संकायाध्यक्ष छात्र कल्याण राकेश ढण्ड छात्राओं को समझाते रहे, लेकिन जब छात्राएं नहीं मानी। तो उन्हें कॉपी दिखाने का आश्वासन दिया। इसके बाद दोपहर 3 बजे कॉपी दिखाने से मना कर दिया। इसे लेकर फिर विवाद शुरू हो गया। विवि अधिकारियों ने पहले छात्राओं को 250 रूपए जमा कर कॉपी देखने के लिए कहा। छात्राओं ने पैसे देने से इनकार कर दिया। इसके बाद कुछ छात्राओं की कॉपी दिखाने का आश्वासन दिया, लेकिन फिर यह कह कर मना कर दिया कि कॉपी दिखाने का समय गुजर गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned