scriptmahakal corridor pm narendra modi latest updates | महाकाल कॉरिडोरः स्वच्छ जल से भरा रहेगा रुद्रसागर, पीएम मोदी काशी की तरह करेंगे लोकार्पण | Patrika News

महाकाल कॉरिडोरः स्वच्छ जल से भरा रहेगा रुद्रसागर, पीएम मोदी काशी की तरह करेंगे लोकार्पण

रुद्रसागर को क्षिप्रा के जल से भरने के लिए टेस्टिंग शुरू, जून माह में आ सकते हैं पीएम मोदी...।

उज्जैन

Updated: May 07, 2022 05:50:40 pm

उज्जैन। रुद्रसागर को क्षिप्रा के पानी से भरने के लिए अंतिम दौर की कार्रवाई शुरू हो गई है। शुक्रवार को क्षिप्रा का पानी लिफ्ट कर रुद्रसागर में डालने की टेस्टिंग की गई। इस दौरान पाइप लाइन के जरिए नदी का पानी रुद्रसागर तक पहुंचाया गया। यदि सबकुछ ठीक रहता है तो पूरी संभावना है कि महाकाल मंदिर कॉरिडोर के लोकार्पण के दौरान रूद्र सागर का एक भाग स्वच्छ जल से भरे सरोवर के रूप में नजर आएगा।

ujjain2.png

स्मार्ट सिटी अंतर्गत महाकाल क्षेत्र विकास व विस्तारीकरण किया जा रहा है। जून मध्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा महाकाल कॉरिडोर सहित पहले चरण के विकास कार्यों का लोकार्पण प्रस्तावित है। प्रयास है कि इस दौरान रुद्रसागर के एक हिस्से को स्वच्छ जल से भरा जाए ताकि क्षेत्र की रमणीयता और बढ़ सके। इसके लिए रुद्रसागर में मिलने वाले सीवरेज को रोकने के साथ ही इसमें क्षिप्रा का साफ पानी उलेचा जाना है।

यह भी पढ़ेंः

पीएम मोदी की पत्नी ने किए महाकाल दर्शन, जून में मोदी भी करेंगे दर्शन

शुक्रवार को प्रोजेक्ट की टेस्टिंग की गई। दिन में कुछ समय के लिए पंपिंग कर क्षिप्रा का पानी रुद्रसागर में छोड़ा गया। कलेक्टर आशीष सिंह ने भी मौके पर पहुंच टेस्टिंग का अवलोकन किया। आकलन किया जा रहा है कि कुछ दिन लगातार पंपिग करने पर त्रिवेणी संग्रहालय के नजदीक वाला रुद्रसागर का एक भाग पानी से लबालब हो सकेगा। हालांकि अभी प्रोजेक्ट टेस्टिंग मोड पर है और इस दौरान कई तकनीकी व भौगोलिक समस्याएं भी सामने आ सकती है जिन्हें समय रहते दूर करना पड़ेगा।

एक भाग का गहरीकरण किया

महाकाल क्षेत्र विकास व सौंदर्यीकरण में रुद्रसागर विशेष महत्व है। ऐसे में रुद्रसागर का गहरीकरण किया जाएगा। इसमें मिलने वाले सीवरेज को भी रोका जा रहा है। वर्तमान में रुद्रसागर के पिछेले भाग का गहरीकरण किया गया है। इसी भाग में क्षिप्रा का साफ पानी भरने की तैयारी की जा रही है। बाद में दूसरे भाग का गहरीकरण कर साफ पानी जमा करने की व्यवस्था की जाएगी। हालांकि रुद्र सागर विकास मृदा फेज-2 में शामिल है, जिसमें अभी थोड़ा समय लगेगा। रुद्र सागर में क्षिप्रा का साफ पानी जमा करने की योजना है। फिलहाल टेस्टिंग की गई है। इस दौरान कोई समस्या आती है तो उन्हें दूर किया जाएगा।
-आशीष पाठक, सीइओ स्मार्ट सिटी

नृसिंहघाट से लिफ्ट कर लाएंगे पानी

मृदा प्रोजेक्ट अंतर्गत रुद्र सागर में सीवरेज का गंदा पानी मिलने से रोककर साफ पानी उपलब्ध रखना है। बारिश के कारण वर्ष के आधे समय रुद्र सागर में पानी उपलब्ध रहेगा। शेष समय पानी उपलब्ध रखने के लिए कुछ नए स्रोत के साथ क्षिप्रा का सहारा लेने की योजना है। इसके लिए नृसिंहघाट से रुद्र सागर तक पाइप लाइन बिछाते हुए पंपिंग कर पानी उपलब्ध कराने का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। प्रायोगिक तौर पर पाइप लाइन से रुद्र सागर में पानी छोड़ा भी गया है। प्रोजेक्ट सफल होता है तो भविष्य में इसी के जरिए रुद्र सागर में जलापूर्ति की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, देवेंद्र फडणवीस ने किया ऐलानMaharashtra: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए सीएम, आज शाम होगा शपथ ग्रहण समारोहAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: एकनाथ शिंदे ने कहा- 50 विधायकों का भरोसा कभी टूटने नहीं दूंगाMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.