scriptpm narendra modi mahakaleshwar corridor ujjain inauguration date | पीएम मोदी के दौरे को लेकर तैयारी तेज, इस रास्ते से महाकाल के दरबार में आएंगे मोदी | Patrika News

पीएम मोदी के दौरे को लेकर तैयारी तेज, इस रास्ते से महाकाल के दरबार में आएंगे मोदी

9 अक्टूबर के आसपास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उज्जैन आने को लेकर तैयारी तेज, प्रशासन ने किया महाकाल कॉरिडोर का निरीक्षण...।

उज्जैन

Updated: September 14, 2022 11:41:02 am

उज्जैन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अक्टूबर माह में उज्जैन आगमन को लेकर प्रशासनिक तैयारी शुरू हो गई है। इसी कड़ी में पहले यह तय किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी को किस रास्ते से बाबा महाकाल के दर्शन कराने ले जाएंगे। प्राथमिक रूप से दो रास्ते तय हुए हैं, इनमें पहला बड़े गणेश के सामने कोटितीर्थ कुंड से होकर चांदी गेट तो दूसरा रास्ता शंख द्वार से हो सकता है। हालांकि इनमें से कौन-सा रास्ता प्रधानमंत्री के लिए बेहतर होगा इसका फैसला एसपीजी द्वारा लिया जाएगा।

mahakal.jpg
,,
यह भी पढ़ेंः

पीएम मोदी अक्टूबर में करेंगे महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण, प्रशासन ने की पुष्टि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाबा महाकाल के दर्शन व कॉरिडोर लोकार्पण को देखते हुए कलेक्टर आशीषसिंह ने मंगलवार को अधिकारियों के साथ महाकाल मंदिर का निरीक्षण किया। इसमें देखा गया कि प्रधानमंत्री मोदी सबसे पहले बाबा महाकाल के दर्शन करना चाहेंगे तो उन्हें किस मार्ग से ले जाया जा सकता है। निरीक्षण में सामने आया कि पीएम मोदी को बड़ा गणेश मंदिर के सामने छोटा गेट जो कि कोटितीर्थ कुंड से होकर हनुमान मंदिर से सीधे चांदी गेट की ओर जाता है, वहां से ले जाया जा सकता है। दूसरे रास्ते में उन्हें शंख द्वारा से मंदिर में प्रवेश करवाया जा सकता है। इसी मार्ग से पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी गए थे। कलेक्टर ने इन दोनों मार्गों की स्थिति को भी जांचा। उन्होंने यहां होने वाले निर्माण व अन्य व्यवस्थाओं को बेहतर करने के निर्देश भी दिए। हालांकि पीएम मोदी द्वारा यदि पहले कॉरिडोर लोकार्पण का निर्णय लिया जाता है तो फिर उन्हें शंख द्वार से ही सीधे प्रवेश करवाया जाएगा। वहीं कलेक्टर ने चारधाम मंदिर मार्ग को भी जल्द तैयार करने के निर्देश दिए है। बताया जा रहा है कि कलेक्टर द्वारा मंदिर आने के मार्ग को लेकर अपनी रिपोर्ट पीएमओ को भेजेंगे, जिसके चलते यह निरीक्षण किया गया। हालांकि अंतिम फैसला एसपीजी द्वारा लिया जाएगा। एसपीजी भी मोदी के आने से पहले मार्गों का निरीक्षण करेगी।

यह भी पढ़ेंः

पीएम नरेंद्र मोदी के गुरु का दावा, 2024 में फिर प्रधानमंत्री बनेंगे

पीएम मोदी 9 अक्टूबर के बाद आएंगे

प्रधानमंत्री मोदी के उज्जैन आगमन को लेकर फिलहाल तारीख तय नहीं हुई है। प्रशासनिक अधिकारियों की मानें तो 9 अक्टूबर के बाद उनके आने का कार्यक्रम तय हो जाएगा। लिहाजा प्रशासन के पास उनके आगमन की तैयारियों को लेकर 20-25 दिन का समय मिलेगा।

ऐसा रहेगा मोदी का संभावित मार्ग

पीएम मोदी हरिफाटक ब्रिज से त्रिवेणी संग्रहालय होते हुए बड़े गणेश मंदिर पहुंचेंगे। यहां से वह बाबा महाकाल के दर्शन करने जा सकते हैं। यह तब होगा जब पीएम मोदी पहले बाबा महाकाल के दर्शन करना चाहेंगे। पीएम मोदी पहले महाकाल कॉरिडोर का लोकार्पण करते हैं तो वह त्रिवेणी संग्रहालय से सीधे कॉरिडोर पहुंचेंगे। यहीं से महाकाल मंदिर पहुंचेंगे। बाबा महाकाल के दर्शन और कॉरिडोर के लोकार्पण के बाद पुन: त्रिवेणी संग्रहालय के रास्ते से वापस लौटेंगे। ● महाकाल कॉरिडोर ● वाटिका ● रुद्र सागर तट का विकास ● शिव अवतार वाटिका ● सरफेज पार्किंग ● धर्मशाला और प्रवचन हॉल ● नूतन व गणेश विद्यालय परिसर।

महाकाल कॉरिडोर को निखारने में समय की चुनौती

उज्जैन. महाकाल कॉरिडोर का निर्माण अभी भी प्रचलित है। डेड लाइन बढ़ाकर कलेक्टर ने सितंबर अंत तक मृदा फेज-1 पूरा करने का लक्ष्य दिया है। सितंबर का पहला पखवाड़ा खत्म होने को है और अब भी कई जगह पत्थर लगाने, लैंड स्कैपिंग, पौधारोपण जैसे अंतिम चरण के काम शेष हैं। बड़ी चुनौती कार्य पूर्ण होने के बाद पूरे कॉरिडोर की सफाई की रहेगी, जिसमें एक-दो सप्ताह तक लग सकते हैं। ऐसे में लक्ष्य पाने के लिए काम में और तेजी लाने की जरूरत है।

करीब 315 करोड़ रुपए से महाकाल कॉरिडोर सहित मृदा फेज-1 के कार्य किए जा रहे हैं। अक्टूबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कॉरिडोर व फेज-1 के अन्य कार्यों का लोकार्पण प्रस्तावित है। पहले चरण का काम मई-जून तक पूरा होना था लेकिन ऐसा नहीं होने पर कलेक्टर आशीषसिंह ने अब सितंबर अंत तक इसे पूरा करने के निर्देश दिए हैं। सिविल वर्क लगभग पूरा हो चुका है लेकिन फिनिशिंग वर्क काफी बचा है। मंगलवार को मौके पर गीनती के कर्मचारी कार्य कर रहे थे। इस धीमी चाल से सितंबर अंत तक कॉरिडोर के पूरी तरह तैयार होने की संभावना कम ही है। हालांकि अधिकारी जल्द ही फेज-1 पूरा करने का दावा कर रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Uttarakhand News: द्रौपदी का डांडा में हिमस्खल में पर्वतारोहण संस्थान के 29 ट्रेनी बर्फ में फंसे, 8 को रेस्क्यू किया, 21 अभी भी लापता'मोदी-मोदी के नारे... खून की नदियां बह जाएगी कहने वालों को जवाब', अमित शाह की रैली में क्या हुआ ऐसा?Uttarakhand News: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह देहरादून पहुंचकर चीन बॉर्डर पर जवानों के साथ मनाएंगे दशहराIND vs UAE: एशिया कप में भारत की लगातार तीसरी जीत, यूएई को 104 रनों के बड़े अंतर से हरायावायुसेना में अगले साल होगी महिला अग्निवीरों की भर्ती, एयर चीफ मार्शल बोले- साल के अंत में 3000 अग्निवीर IAF में होंगे शामिलDomestic Airlines: एयर इंडिया ने यात्रियों के लिए जारी किया नया मेन्यू, जानिए कौन-कौन से स्वादिष्ट व्यंजन हुए शामिलबिहार में निकाय चुनाव पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, EBC आरक्षण समाप्त कर नए सिरे से जारी होगा नोटिफिकेशनरक्षा मंत्रालय का अगवा क्लर्क रेवाड़ी से बरामद, किडनैपिंग के 5 दिन में खाते से 21 लाख का लेनदेन, हनीट्रैप की आशंका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.