scriptWheat procurement: Now there is no need to wander anywhere, farmers ca | गेहूं उपार्जन : अब कहीं भटकने की जरूरत नहीं, घर बैठे मोबाइल से पंजीयन कर सकते हैं किसान | Patrika News

गेहूं उपार्जन : अब कहीं भटकने की जरूरत नहीं, घर बैठे मोबाइल से पंजीयन कर सकते हैं किसान

locationउमरियाPublished: Feb 10, 2024 04:04:11 pm

Submitted by:

ayazuddin siddiqui

पंजीयन 1 मार्च तक किया जाएगा

Wheat procurement: Now there is no need to wander anywhere, farmers can register from mobile sitting at home
Wheat procurement: Now there is no need to wander anywhere, farmers can register from mobile sitting at home

कलेक्टर बुद्धेश कुमार वैद्य ने बताया कि रबी विपणन वर्ष 2024-25 मे समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन करने के लिए किसानों की सुविधा के लिए पंजीयन और उपार्जन की प्रक्रिया का निर्धारण किया गया है। किसान पंजीयन की व्यरवस्था को सहज एवं सुगम बनाया गया है। किसान स्वयं के मोबाइल से घर बैठे पंजीयन कर सकते हैं। किसानों को पंजीयन केन्द्रों मे लाइन लगाकर पंजीयन कराने की समस्या से मुक्ति मिलेगी ।

उन्होंने बताया कि किसान अपना नि:शुल्क पंजीयन ग्राम पंचायत कार्यालय में स्थापित सुविधा केंद्र पर, जनपद पंचायत कार्यालयों में स्थापित सुविधा केंद्र पर, तहसील कार्यालयों में स्थापित सुविधा केंद्र पर, सहकारी समितियों एवं सहकारी विपणन संस्थाओं व्दारा संचालित पंजीयन केंद्र पर तथा एमपी किसान एप पर अपना पंजीयन करा सकते हैं। इसी तरह सशुल्क के साथ किसान अपना पंजीयन एमपी आनलाइन कियोस्क पर, कामन सर्विस सेंटर कियोस्क पर, लोक सेवा केंद्र पर, निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे के माध्यम से करा सकते है। एम.पी. ऑनलाईन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेन्टर, लोक सेवा केन्द्र और निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे पर समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए किसानों के पंजीयन का निर्धारित पंजीयन शुल्क रुपये 50 (रुपये पचास मात्र) से अधिक नहीं लिया जायेगा। केन्द्रों पर पंजीयन सुविधा एवं शुल्क राशि के संबंध में आवश्यक बैनर सेंटर पर लगाया जायेगा । इस संबंध में जिला प्रबंधक, (संबंधित सर्विस सेंटर) कियोस्क, कॉमन सर्विस सेंन्टर, लोक सेवा केन्द्र जिला उमरिया (म.प्र.) द्वारा कार्रवाई सुनिश्चित करे एवं सतत निगरानी रखी जायेगी। गेहूं उपार्जन के लिए किसान का पंजीयन करने के पूर्व भूमि संबंधी दस्तावेज एवं किसान के आधार एवं अन्य फोटो पहचान पत्र्रो का समुचित परीक्षण कर उनका रिकार्ड रखा जाना अनिवार्य होगा।

ट्रेंडिंग वीडियो