गोदभराई से वापस लौटते समय उजड़ गई थीं कई गोद, अब इस विधायक ने ऐसे की मदद

गोदभराई से वापस लौटते समय उजड़ गई थीं कई गोद, अब इस विधायक ने ऐसे की मदद

Nitin Srivastava | Publish: Feb, 15 2018 02:45:06 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 03:00:38 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

डॉक्टरों का आचरण देख नाराज हुए विधायक, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री से की शिकायत...

उन्नाव. पुरवा विधायक अनिल सिंह ने अपनी घोषणा के अनुसार मृतकों के परिजनों को दस-दस हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए दुर्घटनाग्रस्त पीड़ितों के घर पर पहुंचे। जहां एक बार फिर माहौल गमगीन हो गया। मृतक परिजन विधायक के हाथ पकड़ कर रोने लगे। विधायक मृतक परिजनों को ढाढस बधाइयां और शासन द्वारा हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया। मृतकों के घर पहुंच कर आर्थिक सहायता के दौरान विधायक ने कहां की शासन द्वारा मिलने वाली सहायता और सेवाओं का लाभ दिलाने में पूरी मदद की जाएगी। वही दुर्घटना की रात स्वास्थ्य केंद्र में घायलो के उपचार में डॉक्टरों की हीलाहवाली एवं स्वास्थ्य सेवाओं की अव्यवस्था की शिकायत विधायक अनिल सिंह ने प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह से की है।

 

मृतक परिजनों को दस-दस हजार और घायलों को पांच हजार की दी आर्थिक मदद

गौरतलब है विगत 12 फरवरी को मौरावा थाना क्षेत्र के मौरावा- बछरावां मुख्य मार्ग पर स्थिति कूटी खेड़ा-चहटुवा खेड़ा गाँव के बीच बाइक सवार को बचाने के चक्कर मे मांगलिक कार्यक्रम से वापस आ रही टवेरा गाड़ी अनियंत्रित होकर गहरी खाईं में गिर गयी थी।जिससे इस घटना में टवेरा एवं बाइक सवार पांच लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। जबकि तीन लोगों की मौत जिला अस्पताल व स्वास्थ्य केंद्रों में उपचार के दौरान हुई। इस घटना में सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिनका अभी भी उपचार स्वास्थ्य केंद्रों में चल रहा है। घायलो को देखने पहुँचे पुरवा विधायक अनिल सिंह ने घायलों के उपचार हेतु अपने निजी कोष से पाँच-पाँच हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की। इसके बाद बसपा विधायक अनिल सिंह ने मृतकों के परिजनों को अपने पास से दस-दस हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की थी। इसी क्रम में पुरवा से विधानसभा का प्रतिनिधित्व कर रहे विधायक अनिल सिंह असोहा थाना क्षेत्र के नौगवां गाँव व पुरवा कोतवाली के हिम्मत खेड़ा गाँव पहुँच कर मृतकों के परिजनों से मिले और आर्थिक सहायता प्रदान की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सरकारी सेवाओं का लाभ दिलाया जायेगा।

 

स्वास्थ्य मंत्री से की गई जिला अस्पताल के चिकित्सकों की शिकायत

उन्होंने कहा कि वह पीड़ित परिवार के साथ हमेशा खड़े रहेंगे। इस दौरान जानकारी देते हुए पुरवा विधायक अनिल सिंह ने बताया कि घटना की रात स्वास्थ्य केंद्र में घायलों के भर्ती होने के दौरान उपचार में डॉक्टरों की हीलाहवाली और अव्यवस्था का आलम था। उन्होंने मौके पर पहुंचकर इस विषय में मुख्य चिकित्सा अधिकारी से भी बातचीत की थी। उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह से की गई है। स्वास्थ्य केंद्रों में लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Ad Block is Banned