आक्रोशित किसानों का अनोखा विरोध, जिलाधिकारी का कराया दसवां और तेरहवीं !

Dikshant Sharma

Publish: Sep, 17 2017 06:05:24 (IST)

Unnao, Uttar Pradesh, India
आक्रोशित किसानों का अनोखा विरोध, जिलाधिकारी का कराया दसवां और तेरहवीं  !

किसानों ने  जिला प्रशासन की दसवां और तेरहवीं के कार्यक्रम का आयोजन कर अपना रोष प्रकट किया है।


उन्नाव। ट्रांस गंगा सिटी के लिए अधिग्रहित की गई जमीनों के किसानों ने आज जिला प्रशासन की दसवां और तेरहवीं के कार्यक्रम का आयोजन कर अपना रोष प्रकट किया है। किसानों का मानना है कि जिला प्रशासन की किसानों के प्रति उदासीनता के कारण यह स्थिति उत्पन्न हो रही है। इस मौके पर किसान नेताओं ने कहा कि कमिश्नर के आदेश का सम्मान होना चाहिए और जमीन किसानों के नाम होनी चाहिए। इसी प्रकार का एक मांग पत्र जिलाधिकारी को सौंपा गया था। परंतु उस पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिस पर आज ग्रामीण किसानों ने जिला प्रशासन की दसवां और तेरहवीं का निश्चय किया है। इस मौके पर विधि विधान से कर्मकांड कर के पंडितों को दक्षिणा दिया गया और भोज का आयोजन भी किया गया। जिसमें हजारों की संख्या में किसानों ने भाग लिया। गौरतलब है कि ट्रांस गंगा सिटी के लिए यूपीएसआईडीसी ने किसानों की जमीन अधिग्रहित की थी। जिसका मुआवजा किसानों को नहीं दिया गया। जिससे आक्रोशित किसानों की तरफ से विगत छह माह से लगातार आंदोलन चल रहा है

हजारों की संख्या में ग्रामीण मौजूद

पिछले 6 महीने क्या चल रहा किसान आंदोलन दिन प्रतिदिन चरम पर पहुंचता जा रहा है। आंदोलित किसान विभिन्न रूपों में अपनी बात प्रशासन शासन तक पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। इसी क्रम आज किसानों ने दसवां और तेरहवीं कार्यक्रम होने वाले विभिन्न कर्मकांडों का आयोजन किया। जिसमें बड़ी संख्या में पंडितों को बुलाया गया। किसानों ने अपने बाल मुंडवाए और पंडितों को दक्षिणा देकर भोजन कराया। सबसे बड़ी बात है कि इस मौके पर हजारों की संख्या में महिला और पुरुष ग्रामीण मौजूद थे। किसान नेता हिरेन्द्र निगम ने बताया कि हजारों की संख्या में किसान जिलाधिकारी से मिलने के लिए मुख्यालय तक गए थे। परंतु जिलाधिकारी ने एक बार भी मिला मुनासिब नहीं समझा। जिस से आक्रोशित होकर किसानो ने क्रमिक अनशन का निश्चय किया है। ऐसी क्रमिक अनशन के दौरान जिलाधिकारी का दसवां और तेरहवीं कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। जिसमें बड़ी संख्या में किसानों ने बाल मुंडवा कर विरोध प्रदर्शन किया है। इस मौके पर अन्य लोगों के अलावा सनोज यादव, डॉक्टर डीएन पाल, सुशील त्रिवेदी, उमेश शुक्ला, किशोरी लोध, पप्पू, अनूप त्रिवेदी, बीडीसी पृथ्वीपाल वर्मा, सियादुलारी, पप्पी, रोशनी, मंजुला सहित बड़ी संख्या में हजारों की संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned