70 साल बाद करवाचौथ पर बन रहा शुभ संयोग, हजार गुना अधिक होगा पूजा का फल

70 साल बाद करवाचौथ पर बन रहा शुभ संयोग, हजार गुना अधिक होगा पूजा का फल
Karwa Chauth

Sarweshwari Mishra | Updated: 11 Sep 2019, 04:40:19 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

करवा चौथ पर सुहागन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं

वाराणसी. करवाचौथ का महिलाएं बेसब्री से इंतजार करती हैं. इस साल 70 साल बाद करवाचौथ पर शुभ संयोग बन रहा है। इस दिन का सुहागन महिलाएं बड़ी ही बेसब्री से इंतजार करती हैं। करवा चौथ पर सुहागन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। करवाचौथ के लिए महिलाएं महीने भर पहले से ही तैयारियां शुरू कर देती हैं। इस बार रोहिणी नक्षत्र और मंगल का योग एक साथ आ रहा है। ज्योतिष के मुताबिक यह योग करवाचौथ को और अधिक मंगलकारी बना रहा है। इससे पूजन का फल हजारों गुना अधिक होगा।


रविवार होने के कारण अधिक होगा महत्व
करवाचौथ पर रोहिणी नक्षत्र का संयोग होना अपने आप में एक अद्भुत योग है। रविवार होने से इसका महत्व और बढ़ गया है। चंद्रमा में रोहिणी का योग होने से मार्कण्डेय और सत्यभामा योग बन रहा है। यह योग चंद्रमा की 27 पत्नियों में सबसे प्रिय पत्नी रोहिणी के साथ होने से बन रहा है। पति के लिए व्रत रखने वाली सुहागिनों के लिए यह बेहद फलदायी होगा। ऐसा योग भगवान श्रीकृष्ण और सत्यभामा के मिलन के समय भी बना था।

करवा चौथ व्रत की तारीख और मुहुर्त
करवा चौथ व्रत की तारीख- 17 अक्टूबर 2019, बृहस्पतिवार
करवा चौथ व्रत पूजा का शुभ मुहूर्त: 17.46 बजे
(समय अवधि – 1 घंटे 16 मिनट)
करवा चौथ के दिन चन्द्रोदय- 20.20 बजे
चतुर्थी तिथि आरंभ- 06.48 बजे से (17.10.19)
चतुर्थी तिथि खत्म- 07.28 बजे तक (18.10.19)

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned