यूपी की इन 9 सीटे तय करेगी सीएम योगी आदित्यनाथ का भविष्य, लगेगा झटका या खिलेगा कमल

यूपी की इन 9 सीटे तय करेगी सीएम योगी आदित्यनाथ का भविष्य, लगेगा झटका या खिलेगा कमल
CM Yogi Adityanath

Devesh Singh | Publish: Apr, 04 2019 03:11:57 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

यूपी के मुख्यमंत्री की भी प्रतिष्ठा दांव पर, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. सीएम योगी आदित्यनाथ का भविष्य यूपी की यह ९ सीटे तय कर सकती है। बीजेपी ने वर्ष 2014 पर इन सीटों पर जीत हासिल की थी। यूपी चुनाव २2017में बंपर बहुमत मिलने के बाद बीजेपी ने मुख्यमंत्री की कुर्सी योगी आदित्यनाथ को सौपी थी ऐसे में मुख्यमंत्री के पास इन सीटों पर बीजेपी को विजय दिलानी होगी। यदि बीजेपी को इन सीटों पर झटका लगा तो सीएम का भविष्य भी फंस सकता है।
यह भी पढ़े:-जानिए वह पांच कारण जिससे भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर के आने से परेशान हुई मायावती


सीएम योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में बीजेपी को तगड़ा झटका लग चुका है। सीएम योगी की प्रतिष्ठा की सीट गोरखपुर में बीजेपी को उपचुनाव में हार मिल चुकी है। उस समय सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि हम लोग अति आत्मविश्वास में यह सीट हारे हैं। इसके बाद सीएम योगी ने गोरखपुर के विकास के लिए कई योजना चलायी है। अब लोकसभा चुनाव 2019 का बिगुल बज चुका है। ऐसे में बीजेपी को फिर से दिल्ली की सत्ता पर कब्जा करने के लिए पूर्वांचल में खास मेहनत करनी होगी। बीजेपी के लिए अखिलेश यादव व मायावती का गठबंधन के साथ राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की कांग्रेस बड़ी मुसीबत बन सकती है। ऐसे में बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं को अपना जादू दिखाना होगा। इसमे सीएम योगी आदित्यनाथ का भी नाम शामिल है।
यह भी पढ़े:-पीएम नरेन्द्र मोदी तोड़ेंगें अपना पुराना रिकॉर्ड, बीजेपी की बैठक में हुआ खुलासा

सीएम योगी आदित्यनाथ का भविष्य तय कर सकती है यूपी की यह 9 सीट
यूपी में अधिक से अधिक सांसद जीताने की जिम्मेदारी सीएम योगी की भी है। पीएम नरेन्द्र मोदी व बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन यूपी के लिए खास तैयार तैयारी की है। गोरखपुर को सीएम योगी का गढ़ माना जाता है। इस क्षेत्र की सभी 9 सीटों पर वर्तमान में बीजेपी सांसद है और फिर से इन सीटों पर कमल खिलाने की जिम्मेदारी सीएम योगी की है। यदि बीजेपी को इन सीटों पर विजय मिलती है तो सीएम योगी का पार्टी में कद और बढ़ जायेगा। यदि बीजेपी इन सीटों पर चुनाव हार जाती है तो सीएम योगी का भविष्य भी फंस सकता है क्योंकि उस समय सीएम योगी यह नहीं का पायेंगे कि उनकी सरकार नहीं थी या इन सीटों पर दूसरी पार्टी के प्रत्याशी चुनाव जीते थे।
यह भी पढ़े:-बीजेपी ने जारी की प्रत्याशियों की सूची, अखिलेश यादव के खिलाफ यह प्रत्याशी लड़ेगा चुनाव

जानिए किन सीटों पर सीएम योगी की प्रतिष्ठा है दांव पर
गोरखपुर, देवरिया,सलेमपुर, महराजगंज, कुशीनगर, डुमरियागंज, संत कबीरनगर, बांसगांव व बस्ती
इन सीटों पर बीजेपी के सांसद
गोरखपुर सीट पर पहले खुद योगी आदित्यनाथ सांसद थे बाद में हुए उपचुनाव में निषाद पार्टी के प्रवीण निषाद ने सपा के सिंबल से चुनाव लड़ कर यह सीट बीजेपी से छीनी थी। अब प्रवीण निषाद खुद बीजेपी में आ गये हैं। देवरिया सीट पर कलराज मिश्रा का कब्जा था। इस बार कलराज मिश्रा ने चुनाव नहीं लड़ेंगे। सलेमपुर में बीजेपी सांसद रविन्द्र कुशवाहा है और फिर से इसी सीट से चुनाव लडऩे जा रहे हैं। महराजगंज से बीजेपी सांसद पंकज चौधरी को फिर इसी सीट से टिकट मिला है।, कुशीनगर से गुड् पांडेय सांसद है और बीजेपी ने वर्तमान सांसद का टिकट काट कर विजय दूबे को प्रत्याशी बनाया है। बीजेपी ने , डुमरियागंज के सांसद जगदम्बिका पाल पर फिर से भरोसा जताते हुए टिकट दिया है। संत कबीरनगर से सांसद है शरद त्रिपाठी और बीजेपी ने अभी तक किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया है। जबकि बांसगांव से सांसद कमलेश पासवान व बस्ती के सांसद हरीश द्विवेदी को बीजेपी ने फिर से उन्ही की सीट पर मैदान पर उतारा है।

यह भी पढ़े:-बीजेपी के दिग्गज नेताओं पर भारी पड़े सीएम योगी, जिसको नहीं चाहा उसका काटा गया टिकट

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned