अजीबोगरीब आवाजें रोकने के लिए गड्ढे के ऊपर बनाया था घर, इसके बावजूद नहीं रुका खौफनाक घटनाओं का सिलसिला

  • इस गड्ढे में कोई नहीं करता जाने की हिम्मत
  • गहराई का आजतक नहीं चला पता

Prakash Chand Joshi

December, 0804:42 PM

नई दिल्ली: हमारे आसपास या कहीं दूर कई बार ऐसी घटनाएं घटती हैं, जिनके बारे में हम कुछ नहीं जान पाते। लेकिन ये घटनाएं कई बार रहस्यों से भरी होती है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि ऐसी ही कुछ रहस्यों से भरी घटनाएं चेक रिपब्लिक के होउसका कैसल में भी घटती है। चलिए आपको बताते हैं कि आखिर यहां पर क्या रहस्य भरी चीज है।

house1.png

वीडियो: ये शख्स दूल्हे से कर रहा था ऐसा मजाक, तभी हुई ऐसी पिटाई सब देखते रह गए

दरअसल, कहा जाता है कि यहां एक रहस्यमयी गड्ढा है। सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि इस गड्ढे की गहराई आज तक कोई नहीं नाप पाया है। यही नहीं कहा तो ये भी जाता है कि गड्ढा इतना गहरा है कि ये सीधा नर्क तक जाता है। बताया जाता है कि होउसका कैसल को साल 1253 से लेकर 1278 के बीच बनाया गया था। बताया जाता है कि इस घर को बनाने के पीछे यहां रहने वाले ग्रामीणों का मकसद था कि उस रहस्यमयी गड्ढे ढक देना, जिसकी गहराई अनंत है। इस ही 'नर्क का द्वार' कहते हैं। स्थानील लोगों की मानें तो यहां सूर्यास्त के बाद इस रहस्यमयी गड्ढे से भयानक जीव निकलते थे। इसमें काले पंख वाले जीव आधे मानव थे और आधे जानवर, जो कि पूरे देश में घूमते थे।

house2.png

इस रहस्यमयी गड्ढे के बारे में कहा जाता है कि 13वीं सदी में एक कैदी के सामने ये शर्त रखी गई कि उसकी सजा माफ कर दी जाएगी, लेकिन उसे ये देखकर आना होगा कि इस गड्ढे की गहराई कितनी है। शर्त मानने के बाद उसे रस्सी द्वारा बांधकर उस अंधेरे गड्ढे के नीचे उतारा गया, लेकिन कुछ ही सेकेंड बाद उसके चीखने की आवाज आई। जब कैदी को बाहर निकाला गया तो वो लगभग बूढ़ा हो चुका था। उसकी उम्र सामान्य से कई साल बढ़ गई थी। यहा काम करने वाले लोग ये दावा भी करते हैं कि उन्हें इमारत की निचली मंजिल पर अजीबोगरीब आवाजें सुनाई देती हैं। कई बार यहां घूमने आने वाले लोगों ने भी चीखने-चिल्लाने की आवाजें सुनी हैं। वहीं घर के मालिक ने दावा किया कि एक बार वो अपने दोस्तों के साथ घर में पार्टी कर रहे थे, तभी टेबल पर मौजदू ग्लास अचानक हवा में उड़ने लगे।

Prakash Chand Joshi Content Writer
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned