scriptHepatitis: भारत के लिए खतरनाक बीमारी बन रही हेपेटाइटिस, दुनिया भर में 13 लाख मौतें, WHO का अलर्ट | 1.3 million deaths worldwide due to hepatitis, India also included | Patrika News
विदेश

Hepatitis: भारत के लिए खतरनाक बीमारी बन रही हेपेटाइटिस, दुनिया भर में 13 लाख मौतें, WHO का अलर्ट

WHO यानी वर्ल्ड स्वास्थ्य संगठन की हालिया रिपोर्ट बताती है कि हेपेटाइटिस (Hepatitis) से दुनिया भर में 13 लाख मौतें हुई हैं। इस बीमारी से सबसे ज्यादा जूझ रहे देशों में भारत भी शामिल है। जिसमें उसके हालात बेहद खराब बताए गए हैं।

Apr 10, 2024 / 11:20 am

Jyoti Sharma

WHO Report on Hepatitis

WHO Report on Hepatitis

हेपेटाइटिस (Hepatitis) को लोग कई बार नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन आपका इसे नजरअंदाज करना काफी भारी पड़ सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO ने हेपेटाइटिस पर एक रिपोर्ट जारी की है। जिसके मुताबिक पूरी दुनिया में इस बीमारी से करीब 13 लाख लोगों की मौत (Casualties due to Hepatitis) हो चुकी है। इस समस्या से जूझ रहे टॉप टेन देशों की भी लिस्ट बनाई है जिसमें भारत भी शामिल है। WHO की ये रिपोर्ट कहती है कि टॉप 10 देशों में चौथे नंबर पर भारत है जबकि पहले नंबर पर बांग्लादेश (Bangladesh)है। WHO की हालिया आई इस रिपोर्ट ने भारत को ही नहीं पूरी दुनिया को और भी ज्यादा चिंता में डाल दिया है।

https://twitter.com/hashtag/Hepatitis?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw

बीमारी से मौतों का दूसरा वायरल संक्रमण Hepatitis

हेपेटाइटिस (Hepatitis) पूरी दुनिया में बीमारी से हो रही मौतों का दूसरा कारण बन गया है। यानी दुनिया भर में जितने लोगों की बीमारी से जान जाती है उसमें दूसरा कारण हेपेटाइटिस होता है। WHO की रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में 13 लाख लोगों की इस बीमारी से मौत हो गई है। यानी हर साल 3500 लोग इस बीमारी के चलते मौत के मुंह में चले जाते हैं। इस बीमारी से जूझते 10 देशों की लिस्ट भी WHO ने बनाई है। जिसमें सबसे पहला नंबर बांग्लादेश का तो दूसरा नंबर चीन (China0 का है।

हेपेटाइटिस का इन देशों में खतरा

WHO ने सबसे ज्यादा ग्रसित जिन देशों की लिस्ट जारी की है उनमें ये देश शामिल हैं।

1- बांग्लादेश

2- चीन

3-इथियोपिया

4-भारत
5- इंडोनेशिया

6-नाइजीरिया

7- पाकिस्तान

8- फिलीपींस

9- रूस

10- वियतनाम

https://twitter.com/hashtag/hepatitis?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw

187 देशों में हुआ परीक्षण

WHO ने दुनिया भर के 187 देशों को इस रिपोर्ट में शामिल किया है। इस डेटा के मुताबिक 2019 में हेपेटाइटिस (Hepatitis) के मरीजों की संख्या 1.1 मिलियन थी जो 2022 में बढ़कर 1.3 मिलियन तक पहुंच गई। इन केस में 83 प्रतिशत मामले तो हेपेटाइटिस-B के थे बाकी के 17 प्रतिशत हेपेटाइटिस-C के थे। WHO की रिपोर्ट का कहना है कि लोगों को सबसे ज्यादा हेपेटाइटिस-B प्रभावित कर रहा है। क्योंकि मौतों का कारण हेपेटाइटिस-B रहा है। इसलिए लोगों को WHO ने अलर्ट किया है कि वो हेपेटाइटिस के इस लक्षण से बचकर रहें।

हेपेटाइटिस को कम करने के लिए ध्यान रखें ये बातें

1- हेपेटाइटिस से बचने के लिए आपको समय-समय पर इसकी जांच कराएं
2- ध्यान रखें समय़ पर आपका वैक्सीनेशन हो।
3- ब्लेड और रेजर या वो चीज जो आपके शरीर के सीधे संपर्क में रहती हैं उन्हें दूसरों को ना दें ना ही उनकी ये चीजें लें।
4- टीका लगवाते वक्त ध्यान दें कि जो सीरिंज आपको लगाई जा रही है वो किसी दूसरे के लिए तो इस्तेमाल नहीं की गई है।

क्या है हेपेटाइटिस?

हेपेटाइटिस कई प्रकार का होता है। इसे लक्षणों के मुताबिक अलग-अलग कैटेगरी में रखा गया है। इसका सबसे कॉमन लक्षण है लिवर में सूजन आना।

हेपेटाइटिस-B

हेपेटाइटिस-B विषाणु के चलते होने वाला लिवर का संक्रमण है जिसे वैक्सीनेशन यानी टीके के जरिए रोका जा सकता है।

हेपेटाइटिस-C

इसमें जिगर पर सूजन आ जाती है जो जिगर में वायरस फैलने से हो जाता है।

अल्कोहलिक हेपेटाइटिस

ज्यादा शराब पीने के चलते जिगर में सूजन आ जाती है। इनके अलावा हेपेटाइटिस D,A,E के भी लक्षण होते हैं जिसमें लिवर संबंधी गंभीर बीमारी पनप जाती हैं।

Hindi News/ world / Hepatitis: भारत के लिए खतरनाक बीमारी बन रही हेपेटाइटिस, दुनिया भर में 13 लाख मौतें, WHO का अलर्ट

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो