scriptSummit 2024 : ड्रैगन की सबसे बड़ी घेराबंदी, अमरीका-फिलीपींस और जापान में रक्षा समझौते | China's big siege, Defense Agreement among USA-Philippines and Japan | Patrika News
विदेश

Summit 2024 : ड्रैगन की सबसे बड़ी घेराबंदी, अमरीका-फिलीपींस और जापान में रक्षा समझौते

China’s big siege, Defense Agreement among USA-Philippines and Japan : चीन ( China) की सबसे बड़ी घेराबंदी की गई है । अमरीका ( America)-फिलीपींस ( Philippines ) और जापान ( Japan) में रक्षा समझौते ( Defense Agreements) किए गए हैं। शिखर सम्मेलन ( Summit) के तहत चीन के खतरनाक और आक्रामक व्यवहार पर चिंता जताई गई है।

Apr 14, 2024 / 11:33 am

M I Zahir

agreement.jpg

China’s big siege, Defense Agreement among USA-Philippines and japan : फिलीपींस के राष्ट्रपति ( Philippines President ) फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर ( Ferdinand Marcos Junior ) ने वाशिंगटन ( Washington) में कहा है कि फिलीपींस, अमरीका और जापान के बीच सहयोग समझौता दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में शक्ति संतुलन बदल देगा।

 

 

World News in Hindi : उन्होंने कहा कि इस समझौते का लक्ष्य चीन नहीं है। मार्कोस तीनों राष्ट्रों के पहले त्रिपक्षीय शिखर सम्मेलन के बाद एक संवाददाता सम्मेलन ( Press Conference) को संबोधित कर रहे थे। मार्कोस ने एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशंस ( Asean ) का जिक्र करते हुए कहा कि यह समझौता उस डायनेमिक्स ( Dinamics) को बदलने जा रहा है, जो हम एशिया में आसियान में और दक्षिण चीन सागर के आसपास देखते हैं। तीनों नेताओं ने दक्षिण चीन सागर में चीन के खतरनाक और आक्रामक व्यवहार के बारे में गंभीर चिंता व्यक्त की।

 

 

America News in Hindi : उधर अमरीकी राष्ट्रपति ( American) जो बाइडन ( Joe Biden) और जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ( Fumio Kishida) ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में गुरुवार को चीन ( China) और रूस ( Russia) का मुकाबला करने के लिए अपने गठबंधन को मजबूत करते हुए मिसाइल तकनीक से लेकर चंद्रमा पर लैंडिंग और सैन्य सहयोग के साथ इन्फ्रा परियोजनाओं योजनाओं की घोषणाएं कीं।

 

 

Japan News in Hindi : किशिदा ने कहा कि दोनों नेताओं ने ताइवान ( Taiwan)और चीन ( China) के बीच तनावपूर्ण संबंधों पर चर्चा की और कानून के शासन के आधार पर अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था बनाए रखने का वादा किया। गौरतलब है कि चीनी नेता शी जिनपिंग ( Xi Jinping) ने हाल ही में कहा था कि किसी बाहरी हस्तक्षेप से ताइवान और चीन का एकीकरण नहीं रोका जा सकता।

 

 

China News in Hindi : गौरतलब है कि परमानेंट कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन ( Permanent Court of Arbitration) के 2016 के फैसले के बावजूद चीन लगभग पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है। कोर्ट ने कहा था कि बीजिंग ( Beijing) के व्यापक दावों का कोई कानूनी आधार नहीं है। गौरतलब है कि इस मार्ग से सालाना 3 लाख करोड़ डॉलर का कारोबार जहाजों के जरिये होता है।

 

 

Philippines News in Hindi : फिलीपींस में सैन्य अड्डों तक पहले ही पहुंच रखने वाले अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने फिलीपींस में इन्फ्रास्ट्रक्चर ( Infrastucture) के विकास के लिए 1280 लाख डॉलर देने की कांग्रेस से अनुशंसा की है। वहीं, मार्कोस ने उम्मीद जताई कि इस शिखर सम्मेलन के बाद आगामी 10 सालों में फिलीपीन्स में 100 अरब डॉलर का निवेश आएगा।

Hindi News/ world / Summit 2024 : ड्रैगन की सबसे बड़ी घेराबंदी, अमरीका-फिलीपींस और जापान में रक्षा समझौते

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो