scriptCommissioner suspended traffic inspector and intensified efforts to arrest him in Agra | ट्रैफिक इंस्पेक्टर की हरकत पर कमिश्नर ने की बड़ी कार्रवाई, सस्पेंड के साथ गिरफ्तारी का आदेश | Patrika News

ट्रैफिक इंस्पेक्टर की हरकत पर कमिश्नर ने की बड़ी कार्रवाई, सस्पेंड के साथ गिरफ्तारी का आदेश

locationआगराPublished: Feb 01, 2024 11:44:38 am

Submitted by:

Vishnu Bajpai

UP News: यूपी के आगरा जिले में ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर के खिलाफ कमिश्नर जे रविन्दर गौड ने तगड़ा एक्‍शन लिया है। उन्होंने ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर को सस्पेंड करते हुए गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं। आइए जानते हैं पूरा मामला…

agra_commissioner.jpg
TSI Suspended in Agra: उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में मेडिकल की छात्रा ने ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर पर गंभीर आरोप लगाए थे। इस मामले में सिकंदरा पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। इसकी जांच एसीपी ट्रैफिक सैय्यद अरीब अहमद ने की और डीसीपी को जांच रिपोर्ट सौंपते हुए विभागीय कार्रवाई की संस्तुति की थी। इसपर डीसीपी ट्रैफिक ने टीएसआई को सस्पेंड कर दिया। पूरे मामले पर कमिश्नर जे रविन्दर गौड ने भी रिपोर्ट मांगी है। इंस्पेक्टर सिकंदरा नीरज कुमार शर्मा ने बताया कि मेडिकल छात्रा की तहरीर पर टीएसआई के खिलाफ शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया गया है। छात्रा के कोर्ट में बयान दर्ज कराए जा चुके हैं। आरोपी फिलहाल फरार है। उसे जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

शादी का झांसा देकर मेडिकल छात्रा से दुष्कर्म करने का आरोप


बीएएमएस छात्रा को इश्क के जाल में फंसाकर शादीशुदा ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर ने दुष्कर्म किया। वह छात्रा को शादी का झांसा दे रहा था। पीड़िता ने सच पता चलने पर आरोपित के खिलाफ सिकंदरा थाने में दुराचार का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह 21 दिन से गैरहाजिर चल रहा है। उस पर विभागीय कार्रवाई को एसीपी ट्रैफिक ने डीसीपी ट्रैफिक को रिपोर्ट दी है। बीएएमएस की छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी टीएसआई सुरेंद्र सिंह जल्द गिरफ्तार होगा। पीड़िता ने मंगलवार को पुलिस को दिए बयान में यही कहा कि टीएसआई ने उसे धोखा दिया। वह खुद को अविवाहित बताकर शारीरिक शोषण करता रहा। पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराया।

टीएसआई की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही आगरा पुलिस


वहीं टीएसआई को निलंबित कर दिया है। गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश भी दे रही है। एटा की रहने वाली छात्रा ने सोमवार को थाना सिकंदरा में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप लगाया कि यातायात पुलिस के सब इंस्पेक्टर ने दोस्ती कर प्रेमजाल में फंसाया। सिकंदरा में फ्लैट किराये पर दिलाकर मिलने आने लगा अविवाहित बताकर शादी का वादा किया। उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने लगा। विरोध पर शादी की कहता बाद में उसे पता चला कि वह पहले से शादीशुदा है। उसके दो बच्चे भी हैं। भेद खुलने पर टीएसआई ने उसे धमकाया।
बयान में एफआईआर का किया समर्थन थाना सिकंदरा के प्रभारी निरीक्षक नीरज शर्मा ने बताया कि पीड़िता ने धारा 161 के बयान दर्ज कराए हैं। इसमें उसने अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। एफआईआर में लिखी बात का समर्थन किया है। अब उसके कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाएंगे। मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है, आरोपी फरार हो गया है। उसकी गिरफ्तारी के लिए टीम को लगाया है। मामले में पीड़िता की शिकायत पर धोखाधड़ी और दुष्कर्म की धारा में मुकदमा दर्ज कराया। मामले में शिकायत मिलने पर एसीपी यातायात सैय्यद अरीब अहमद ने जांच की। इसके बाद रिपोर्ट डीसीपी यातायात को दी गई। मंगलवार को टीएसआई को निलंबित कर दिया गया। विभागीय जांच भी शुरू करा दी गई है।
-आगरा से प्रमोद कुशवाह की रिपोर्ट

ट्रेंडिंग वीडियो