scriptघर पर बजने वाली थी शहनाई, सरहद पर शहीद हुए कैप्टन, रुलाने वाली है कहानी | Rajouri Jammu Kashmir Terrorist Attack captain shubham gupta marriage | Patrika News

घर पर बजने वाली थी शहनाई, सरहद पर शहीद हुए कैप्टन, रुलाने वाली है कहानी

locationआगराPublished: Nov 23, 2023 09:14:41 am

Submitted by:

Sanjana Singh

आगरा के रहने वाले शहीद कैप्टन शुभम गुप्ता के घरवाले उनके शादी की तैयारियों में लगे थे। इससे पहले ही उनके पास उनके बेटे की शहादत की खबर आ गई।

agra_shubham_gupta.jpg
जम्मू कश्मीर के राजौरी में हुए आतंकवादियों से मुठभेड़ के दौरान आगरा के कैप्टन शुभम गुप्ता शहीद हो गए। इस बात की सूचना जब उनके परिजनों को मिली तो घर में कोहराम मच गया। एक तरफ उनके घरवाले शादी की तैयारियों में लगे थे, तो दूसरी तरफ इस खबर से गांव में मातम छा गया।
फिलहाल, शहीद शुभम गुप्ता के घरवाले उनके पार्थिव शरीर के घर आने का इंतजार कर रहे हैं। बेटे के शहीद होने की खबर सुनते ही उनकी मां बेसुध हो गईं। शहीद शुभम गुप्ता आर्मी के कैप्टन के पद पर तैनात थे और उनके पिता बसंत गुप्ता आगरा में डिस्ट्रिक्ट गवर्नमेंट काउंसलर जिला अदालत में है। इसी बीच, आगरा से बीजेपी सांसद एसपी सिंह बघेल और राजकुमार चहार शहीद शुभम गुप्ता के परिवार के लोगों से मिलने पहुंचे और मुलाकात की।
शहीद कैप्टन के अंदर था देश का जुनून
शहीद कैप्टन शुभम गुप्ता के भाई ऋषभ ने एक मीडिया वेबसाइट को बताया कि भाई को सिग्नल कोर में कमीशन मिला, फिर भी उन्होंने उसे छोड़कर पैरा ज्वाइन किया। जब कभी भी शहीद सुभम गुप्ता किसी सीक्रेट मिशन पर होते थे तो उनका फोन बंद रहता था। उनके अंदर हमेशा से ही देश के प्रति अदभुत जज्बा था। उन्हें बचपन से वर्दी बहुत पसंद थी।

यह भी पढ़ें

पिता चलाते हैं बस, बेटी चलाएगी एयरफोर्स के जहाज, मिली ऑल इंडिया रैंक-2

सर्च ऑपरेशन में आतंकियों ने की गोलीबारी
दरअसल, राजौरी में बुधवार यानी 22 नवंबर को आतंकवादियों से मुठभेड़ हुई और इसमें सेना के दो अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए। इन शहीद जवानों में आगरा के कैप्टन शुभम गुप्ता भी शामिल हैं। सेना को यह जानकारी दी गई थी कि आतंकी छिपे हुए हैं। इसके बाद सर्च ऑपरेशन चलाया गया। जैसे ही सेना नजदीक पहुंची, तो आतंकी ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे।

ट्रेंडिंग वीडियो