scriptThirteen lakhs people did not get second dose of vaccine | उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में 13 लाख लोगों ने नहीं ली कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक | Patrika News

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में 13 लाख लोगों ने नहीं ली कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक

आगरा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ए.के. श्रीवास्तव ने कहा कि गंभीर कोरोना संक्रमण और अस्पताल में भर्ती होने से पर्याप्त सुरक्षा के लिए दोनों खुराक लेना जरूरी है।

आगरा

Published: December 29, 2021 11:51:58 am

उत्तर प्रदेश के आगरा में कोरोना के टीके की पहली खुराक लेने वाले करीब 13 लाख लोगों ने निर्धारित समय खत्म होने के बाद भी दूसरी खुराक नहीं ली है। इन लोगों से आग्रह किया जा रहा है कि लोग नए ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते खतरे के बीच दूसरा टीका लगवाएं। स्वास्थ्य विभाग के रिकॉर्ड के अनुसार, आगरा जिले में 18 साल से ज्यादा उम्र के 35 लाख लोगों में से 15.55 लाख लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।
corna_vaction.jpg
28 लाख से ज्यादा लोगों ने ली वैक्सीन की पहली खुराक
बीते 12 महीनों में 28.60 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है। इनमें से 90 फीसदी से ज्यादा को कोविशील्ड वैक्सीन लगी है। पिछले 12 महीनों में, 28.60 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक मिली। कोविशील्ड वैक्सीन के मामले में पहली और दूसरी खुराक के बीच अनुशंसित अंतराल 12 सप्ताह और कोवैक्सिन के लिए चार सप्ताह तय की गई है।
यह भी पढ़ें

UP Weather Forecast: बारिश ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें, मौसम विभाग ने जारी किया ओले गिरने का अलर्ट

दूसरी खुराक नहीं लेने का मतलब, आप कम है सुरक्षित
आगरा जिला टीकाकरण अधिकारी संजीव बर्मन ने कहा कि दूसरी खुराक नहीं लेने का मतलब है कि आप कम सुरक्षित हैं। इसका मतलब है कि अगर आप संक्रमण के संपर्क में आते हैं, तो आप गंभीर रूप से कोरोना संक्रमित हो सकते हैं।

वैक्सीन की दोनों खुराक जरुरी
आगरा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ए.के. श्रीवास्तव ने कहा कि गंभीर कोरोना संक्रमण और अस्पताल में भर्ती होने से पर्याप्त सुरक्षा के लिए दोनों खुराक लेना जरूरी है। केंद्र सरकार के आदेश के बाद राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने नर्सिग स्टाफ को 60 साल से ऊपर के लोगों और 15 से 18 साल के बच्चों को बूस्टर डोज देने का प्रशिक्षण भी देना शुरू कर दिया है। इस बीच, आगरा जिले में मंगलवार को कोरोना के 4 नए मामले सामने आए, जिससे सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 14 हो गई, जो पिछले तीन महीनों में सबसे ज्यादा है।
यह भी पढ़ें

भाजपा विधायक नंद किशोर गुर्जर का नया फरमान, ‘मुर्गा बेचना है, तो दिल्ली जाकर बेचो’

सीएमओ ने कहा कि जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनके सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे जा रहे हैं ताकि कोरोना के वेरिएंट की पहचान की जा सके। आगरा जिले में अभी तक ओमिक्रोन केस का कोई मामला सामने नहीं आया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.