कोरोना को मात देने वाले रोगी ने भजन सुनाकर ली विदाई

भुज के जी.के. जनरल अस्पताल से

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 26 Oct 2020, 11:29 PM IST

भुज. कोरोना से जंग जीतने वाले मरीजों को अस्पताल से छुट्टी देते समय स्टाफ का आभार व्यक्त करने की खबरों के बीच एक ऐसा भी मरीज सामने आया, जिसने स्टाफ को भजन सुनाकर भुज के जी.के. जनरल अस्पताल से विदाई ली।
गांधीधाम निवासी धनजीभाई सिरोखा को पिछली 6 अक्टूबर को लगभग बेहोशी की हालत में कच्छ जिले के मुख्यालय भुज स्थित जी.के. जनरल अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया था। उनके हृदय में रक्त कम पहुंचने के साथ ही मधुमेह से पीडि़त होने के कारण हालत गंभीर थी। चिकित्सकों के अनुसार मात्र बायपेप व ऑक्सीजन मास्क सरीखे उपकरणों की मदद से व दवाई देने के कारण 16 दिनों में धनजीभाई को तंदुरस्त बनाकर अस्पताल से छुट्टी दी गई।

मन में भजन गाकर धनजीभाई ने कोरोना से जीती जंग

मन में भजन गाकर धनजीभाई ने कोरोना से जंग जीती। स्वआत्मबल से चिकित्सकों के उपचार को सार्थक कर धनजीभाई स्वयं तंदुरस्त हो गए। उन्होंने यह जानकारी देत हुए एक भजन की रचनाकर स्वयं ही भजन गाकर चिकित्सकों व स्टाफ का होसला बढ़ाया। भजन में उन्होंने कोरोना संक्रमित मरीजों को जी.के. जनरल अस्पताल में उपचार कराने की बात भी कही। मेडिसिन विभाग के प्रभारी डॉ. बाबुलाल बंबोरिया, एनेस्थीसिया विभाग के डॉ. रामनंदन प्रसाद के मार्गदर्शन में चिकित्सकों डॉ. येशा चौहाण, डॉ. दीप ठक्कर, डॉ. हनी अबडा, डॉ. निराली त्रिवेदी, डॉ. पूजा कुमाकिया, रेजिडेंट चिकित्सकों, नर्सों आदि भी धनजीभाई के उपचार में जुटे रहे।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned