तिरूपति बालाजी में बैंक और देवास में एटीएम लूट की वारदात में लिप्त था रफीक

तिरूपति बालाजी में बैंक और देवास में एटीएम लूट की वारदात में लिप्त था रफीक

Amit Kakra | Updated: 17 Jul 2019, 03:01:43 PM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

चोरी जानलेवा हमले सहित कई मुकदमे दर्ज है रफीक के खिलाफ
परिजनों का आरोप पुराने फोटो और वीडियो दिखाकर करता था शाइस्ता को ब्लैकमेल

अजमेर.

गंज स्थित होटल गुलाब पैलेस के कमरे में प्रेमिका की हत्या करने वाला रफीक खान की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। जांच में सामने आया कि रफीक आपराधित प्रवृति का था। वह कई वारदातों में लिप्त था। वह शादीशुदा है और दो बच्चों का पिता भी है।
एसडी कुंवर राष्ट्रदीप के अनुसार जांच में सामने आया कि रफीक आपराधिक प्रवृति का है। उस पर कई तरह के मुकदमें दर्ज है। रफीक ने गिरोह के साथ मिलकर तिरूपति बालाजी में बैंक में लूट, मध्यप्रदेश के देवास में एटीएम लूट, शाजापुर में चोरी लूट की कई वारदातों को अंजाम दे चुका था। वह जानलेवा हमले की वारदातों में लिप्त था। कुछ माह पूर्व शाइस्ता के परिजनों ने भी उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें वह जेल जाकर आया था। बाहर आने के बाद मुकदमे में राजीनामा कर लिया। वह शाइस्ता को लगातार ब्लैकमेल कर रहा था। वह शाइस्ता के दूसरे पति को भी इन्दौर कॉल कर परेशान करता था।
13 साल से प्रेम में पागल था रफीक
उसके प्रेम में इस कदर पागल था कि उसका किसी और का होना उसे इतना नागवार गुजरा की उसे मौत की नींद सुला दिया। छह साल पहले शादी टूटने के बाद दो माह पहले शाइस्ता दूसरा निकाह कर ससुराल पहुंची, लेकिन यहां भी रफीक ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। आखिर शाइस्ता उसके बुलावे पर लौट आई, जहां से दोनों 10 जुलाई को फरार हो गए।
रफीक के कारण टूटी थी शादी
पुलिस के अनुसार मृतका शाइस्ता गुल के बड़े भाई शादाब बेग मंगलवार को रिश्तेदारों के साथ अजमेर पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया कि रफीक उनके मकान के पास रहता है। करीब 13 साल पहले वह उनके मकान में किराएदार था। वर्ष 2013 में शाइस्ता का निकाह उज्जैन में हुआ। इसके बाद आरोपी ने उसे फोन कर परेशान करना शुरू कर दिया। उसके पुराने फोटो दिखाकर ब्लैकमेल करने लगा। नतीजा यह रहा कि दो माह बाद ही शाइस्ता पीहर लौट आई। उसकी हरकतों के चलते ही शाइस्ता का रिश्ता टूट गया। मामले में उन्होंने मध्यप्रदेश शाजापुर कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कराया, जिसमें वह 3 माह जेल में भी रहा।
पति पत्नी कर रहे थे शाइस्ता को ब्लैकमेल
शादाब ने आरोप लगाया कि रफीक और उसकी पत्नी शाइस्ता को पुराने फोटो, वीडियो दिखाकर ब्लैकमेल कर रहे थे। उन्होंने शाइस्ता को दी ज्वैलरी भी हड़प ली। मामले में अनुसंधान अधिकारी प्रीति रत्नू ने परिजन के बयान दर्ज किए।
मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम
इधर गंज थाना पुलिस ने मृतका के शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया। प्रारंभिक रिपोर्ट में सामने आया कि शाइस्ता ने गले में फंदा कसने पर संघर्ष किया। इसमें उसके बाजू, कोहनी व हाथ पर चोट का निशान है, जबकि रफीक ने टेलीफोन के तार से गले में फंदा कसने के बाद हाथों में लटका लिया। इससे उसकी दम घुटने से मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन के सुपुर्द कर दिया।
पुलिस को नहीं मिली ज्वैलरी
शादाब ने बताया कि शाइस्ता जब शाजापुर से रफीक के साथ निकली तो ससुराल और उनकी ओर से दिए जेवर भी थे, लेकिन पुलिस ने उसके पास कोई ज्वैलरी नहीं होने की बात कही। संभवत: रफीक शाइस्ता की ज्वैलरी उतार ले गया।
तलाश में टीमें रवाना
एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि महिला की हत्या के आरोपी रफीक खान की तलाश में टीमें रवाना की गई हैं। प्रकरण में आरोपी नामजद है। गिरफ्तारी के बाद ही हत्या के कारणों का खुलासा हो सकेगा।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned