अलीगढ़ महापंचायत: जयंत चौधरी का CM Yogi पर जुबानी हमला, बोले- बाबा बताएं कहां देनी है गिरफ्तारी

Highlights

- बगैर अनुमति किसान महापंचायत करने पर जयंत चौधरी समेत पांच से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज

- रालोद ने जयंत चौधरी ने ट्वीटर पर निकाली अपनी भड़ास

- कहा- बाबा बता दें कि गिरफ्तारी कहां और कब देनी है

By: lokesh verma

Published: 11 Feb 2021, 12:54 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में किसान महापंचायत करना रालोद नेता जयंत चौधरी समेत हजारों किसानों को भारी पड़ गया है। बगैर अनुमति किसान महापंचायत करने पर पुलिस राष्ट्रीय लोक दल नेता जयंत चौधरी समेत पांच हजार से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस का आरोप है कि जयंत चौधरी ने किसान महापंचायत के लिए प्रशासन से परमिशन नहीं ली थी। इसके साथ ही इस महापंचायत में कोरोना महामारी के नियमों का भी पालन नहीं किया गया था। वहीं, केस दर्ज होने के बाद अब जयंंत चौधरी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम लिए बगैर करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि बाबा यह भी बता दें कि गिरफ्तारी कहां देनी है।

यह भी पढ़ें- Farmers Protest: बिरयानी, तंदूरी रोटी और लजीज पकवानों के साथ अब पिज्जा का भी लुत्फ उठा रहे किसान

गौरतलब है कि कृषि कानूनों के खिलाफ राष्ट्रीय लोक दल किसानों का समर्थन कर रहा है। इसके लिए जगह-जगह महापंचायतों का दौर जारी है। हाल ही में रालोद नेता जयंत चौधरी ने अलीगढ़ में बगैर प्रशासन की अनुमति के किसान महापंचायत की थी, जिसको लेकर अब सियासी माहौल गर्मा गया है। पुलिस ने महापंचायत करने पर जयंत चौधरी समेत पांच हजार से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। इसको लेकर जहां जयंत चौधरी ट्वीट कर लिखा है कि बाबा बता दें कि गिरफ्तारी कहां और कब देनी है। वहीं, रालोद समर्थक भी यूपी और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साध रहे हैं। रालोद समर्थकों ने कहा कि जब भी उनकी पार्टी के नेता गिरफ्तारी के लिए बुलाएंगे, वे पहुंच जाएंगे।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में महापंचायत का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले रालोद ने प्रशासन की अनुमति के बगैर ही शामली और सहारनपुर में भी महापंचायत की थी। शामली की महापंचायत में बड़ी संख्या में भीड़ जुटी थी। उस महापंचायत पर भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत को भी आगे आकर कहना पड़ा था कि इससे उनके संगठन का लेना-देना नहीं है। इसके अलावा कांग्रेस ने भी सहारनपुर में किसान महापंचायत बगैर प्रशासन की अनुमति के ही की थी।

यह भी पढ़ें- कांग्रेस का UP वनवास खत्म करने के लिए मंदिरों में ध्यान लगा रहीं प्रियंका

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned