क्राइम ब्रांच ने किया एटीएम क्लोनिंग करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ ,हुआ बड़ा खुलासा

एक आरोपी फरार

प्रयागराज | जिले में क्राइम ब्रांच ने एटीएम की क्लोनिंग करके धोखाधड़ी करने वाले शातिर साइबर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच ने क्लोनिंग के जरिए धोखाधड़ी कर पैसे उड़ाने वाले छात्रों को जेल भेज रही है।इन साथियों को शाहगंज इलाके के लीडर रोड स्थित आईडीबीआई बैंक के एटीएम के बाहर से दबोचा गया है। इनके पास एक लैपटॉप एक रीडर एक राइटर और 5 एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं।
क्राइम ब्रांच ने जानकारी देते हुए बताया कि इन छात्रों ने पूछताछ के दौरान बताया है कि वह मदद के बहाने एटीएम लेकर हाथ में लिए रीडर में स्कैन कर लेते हैं और फिर एक साथी तत्काल उसका पासवर्ड भी देख लेता था। इसके बाद खाते से पैसे उड़ा लेते थे। एटीएम से रात में 12 बजे के आसपास पैसे निकालते थे। जिससे दो दिन की सीमा की अधिकतम रकम भी एटीएम से निकाल सकें ।पूछताछ में बदमाशों ने बताया है कि वह गुजरात के कई जिलों में ऐसी तमाम हरकतों को अंजाम दे चुके हैं ।गिरफ्तार साथियों से पूछताछ के दौरान शहर में कई बड़ी वारदातों का खुलासा हुआ है।

इसे भी पढ़े - हेड कांस्टेबल ने वायरलेस पर की एसओ की शिकायत कहा ,कप्तान को बता दिया जाए ,अब ...
पकड़े गए आरोपियों में धर्मेंद्र कुमार उदय प्रताप कुंवर सिंह है इनका एक साथी जमील फरार हो गया है। उसकी तलाश में क्राइम ब्रांच लगी हुई है इन सभी साथियों के खिलाफ क्राइम ब्रांच मुकदमा दर्ज करा कर जेल भेजने की कार्यवाही कर रही है। गौतरलब है इसके पहले भी क्राइम ब्रांच ने गिरोह को गिरफ्तार का जेल भेजा था।

प्रसून पांडे Desk/Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned