scriptCommits suicide: 8th class student commits suicide for shoes | पिता के पास जूते खरीदने को नहीं थे पैसे तो बेटे ने दे दी जान, 8वीं कक्षा का था छात्र | Patrika News

पिता के पास जूते खरीदने को नहीं थे पैसे तो बेटे ने दे दी जान, 8वीं कक्षा का था छात्र

locationअंबिकापुरPublished: Dec 19, 2023 06:52:33 pm

Commits sucide: जूते फटने पर पिता से 2-3 दिन से खरीदने की कर रहा था जिद, पिता ने उसे समझाया कि अभी पैसे नहीं हैं, बाद में खरीद देगा लेकिन बेटे ने उठा लिया खौफनाक कदम

Commits suicide
Demo pic
अंबिकापुर. Commits suicide: शहर से लगे एक गांव में 8वीं कक्षा के छात्र ने रविवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दरअसल छात्र पिछले 2-3 दिन से अपने पिता से जूता खरीदने के लिए बोल रहा था। पिता के पास रुपए नहीं होने के कारण उसने कुछ दिनों बाद खरीदकर देने की बात कही थी। इससे नाराज बेटे ने अपने चाचा के घर जाकर खौफनाक कदम उठा लिया। बेटे के इस कदम से माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो गया।

अंबिकापुर कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम असोला बरगाहपारा निवासी रवि बरगाह पिता विनोद बरगाह उम्र 12 वर्ष कक्षा 8वीं का छात्र था। उसके जूते फटने की स्थिति में आ गए थे, ऐसे में ठंड में स्कूल जाने में उसे परेशानी हो रही थी।
वह पिछले 2-3 दिन से अपने पिता से जूता खरीदने के लिए बोल रहा था। लेकिन पिता के पास रुपए नहीं होने के कारण उसे बाद में खरीद देने की बात कही थी।

फिर रविवार की शाम को रवि अपनी मां से जूता खरीदवाने के लिए जिद कर रहा था। इसी दौरान अचानक उसे गुस्से में आया और घर से दौडकऱ बाहर निकल गया और कुछ ही दूर चाचा के घर में जाकर फांसी लगा ली।
यह भी पढ़ें
बेखौफ बदमाशों ने शहर में फेंका पेट्रोल बम, तेज धमाके के साथ घर में लगी आग


पीछे से मां पहुंची तो फंदे पर लटका मिला बेटा
बेटे के पीछे-पीछे मां दौडकऱ जा ही रही थी कि तब तक वह फांसी लगा चुका था। उसे तत्काल फंदे से उतारकर इलाज के लिए मिशन अस्पताल लाया गया।
यहां चिकित्सकों ने जांच पश्चात उसे मृत घोषित कर दिया। बेटे की मौत से माता-पिता का जहां रो-रोकर बुरा हाल हो गया, वहीं अन्य परिजनों में भी मातम पसरा हुआ है।

ट्रेंडिंग वीडियो