America: बिडेन कैबिनेट में भारतीयों को मिल सकती है जगह, विवेक मूर्ति और अरुण मजूमदार का नाम सबसे आगे

HIGHLIGHTS

  • US President Elect Joe Biden Cabinet: नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन व्हाइट हाउस में प्रवेश करने को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर चुके हैं।
  • जो बाइडेन ( Joe Biden ) और कमला हैरिस ( Kamla Harris ) प्रशासन की कैबिनेट में भारतीयों को जगह मिल सकती है।
  • अमरीका के पूर्व सर्जन जनरल विवेक मूर्ति और अरुण मजूमदार समेत एक अन्य भारतीय-अमरीकी का नाम सबसे आगे है।

By: Anil Kumar

Updated: 18 Nov 2020, 03:03 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका में चुनाव परिणाम ( US Presidential Election Result 2020 ) को लेकर भले ही सियासी घमासान छिड़ा है, पर नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ( Joe Biden ) व्हाइट हाउस में प्रवेश करने को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर चुके हैं और नए कैबिनेट के लिए मंथन भी शुरू हो चुका है।

इन सबके बीच डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump ) की तरह की जो बिडेन भी अपनी कैबिनेट में भारतीयों पर ज्यादा भरोसा दिखा सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जो बिडेन अपनी कैबिनेट में कई भारतीयों को जगह दे सकते हैं। इसमें अमरीका के पूर्व सर्जन जनरल विवेक मूर्ति ( Vivek Murthy ) और अरुण मजूमदार समेत एक अन्य भारतीय-अमरीकी का नाम सबसे आगे है। बताया जा रहा है कि जो बाइडेन और कमला हैरिस ( Kamla Harris ) प्रशासन की कैबिनेट में इन्हें शामिल किया जा सकता है।

US Election 2020: हार मानने के बाद फिर से पलटे डोनाल्ड ट्रंप, कहा- मैं चुनाव जीत गया!

‘द वाशिंगटन पोस्ट' और ‘पॉलिटिको' ने मंगलवार को कहा कि कोरोना महामारी से निपटने को लेकर जो बिडेन के शीर्ष भारतीय-अमरीकी सलाहकार विवेक मूर्ति को स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री, जबकि स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अरुण मजूमदार को ऊर्जा मंत्री बनाया जा सकता है।

भारतीय-अमरीकियों को मिल सकती है ये जिम्मेदारी

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो 43 वर्षीय विवेक मूर्ति को स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि इस पद पर कई दावेदार हैं जिसमें उत्तरी कैरोलाइना की स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री मैंडी कोहेन और न्यू मैक्सिको की गवर्नर मिशेल लुजान ग्रीशम को प्रबल दावेदार माना जा रहा है। बता दें कि विवेक वर्तमान में सत्ता हस्तांतरण के कोविड-19 सलाहकार बोर्ड के सह अध्यक्ष हैं।

वहीं ‘एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट्स एजेंसी-एनर्जी' के पहले निदेशक अरुण मजूमदार ऊर्जा संबंधी मामलों पर बिडेन के शीर्ष सलाहकार रहे हैं। ऐसे में मजूमदार को ऊर्जा मंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि इस पद पर कई दावेदार हैं जिसमें पूर्व ऊर्जा मंत्री अर्नेस्ट मोनिज, स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधार्थी डैन रीचर और पूर्व उप ऊर्जा मंत्री एलिजाबेथ शेरवुड रैंडल का नाम सबसे आगे है।

US Election Result: चुनाव में गड़बड़ी के दावों को खारिज करने वाले अधिकारी को ट्रंप ने किया बर्खास्त

आपको बता दें कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन ने राष्ट्रपति चुनाव में 306 इलेक्टोरल वोट हासिल किए हैं, जबकि डोनाल्ड ट्रंप को 232 इलेक्टोरल वोट मिले हैं। बहुमत के लिए अमरीकी सदन के 538 सीटों के लिए 270 इलेक्टोरल वोट की जरूरत होती है।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned